'गायत्री मंत्र' हमारे संतों का दुनिया को दिया तोहफा- शर्मा 

img

चंडीगढ़ : हरियाणा के सभी स्कूलों में प्रार्थना में गायत्री मंत्र को अनिवार्य बनाए जाने के फैसले को लेकर प्रदेश के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा का कहना है कि गायत्री मंत्र हमारे संतों और महापुरुषों द्वारा विश्व को दिया गया तोहफा है. 

हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने न्‍यूज एजेंसी ANI से बातचीत करते हुए कहा कि 'हमने इस मुद्दे पर राज्‍य के शिक्षा विभाग के वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ बैठक की है. गायत्री मंत्र  हमारे संतों और महापुरुषों द्वारा विश्व को दिया गया तोहफा है. इस पर एक नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा'.

इसे लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, "शिक्षा का स्तर कैसे ऊंचा हो, शिक्षा में नैतिकता कैसे आए, कैसे उसमें संस्कार डाले जाएं, उस नाते बहुत से विषयों पर शिक्षा विभाग ने विचार किया." गंभीरता से विचार करने के बाद शिक्षा विभाग ने यह फैसला किया कि सभी सरकारी स्कूलों में सुबह की प्रार्थना में गायत्री मंत्र का जाप किया जाएगा.

अब सभी स्कूलों में एक जैसी होगी प्रार्थना
शिक्षा निदेशालय द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है कि सभी सरकारी स्कूलों में प्रार्थना की शुरुआत गायत्री मंत्र के साथ होगी और राष्ट्रगान के साथ प्रार्थना खत्म होगी. आगे कहा गया है कि करीब 20 मिनट की प्रार्थना में रोजाना गायत्री और राष्ट्रगान को नियमानुसार जरूर शामिल करवाएं. सभी सरकारी स्कूलों में एक जैसी प्रार्थना कराई जाए. अभी तक अलग-अलग सरकारी स्कूलों में अलग-अलग पार्थना होती थी. प्रार्थना के लिए 'हमको मन की शक्ति देना' चुना गया है. प्रार्थना के दौरान किसी भी वक्त औचक निरीक्षण हो सकता है. इसलिए सभी स्कूल नियमों की पालना करें.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement