मालदीव में राजनीतिक संकट, समाधान के लिए भारत से मांगी मदद

img

कोलंबो : मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने देश में पैदा हुए राजनीतिक संकट के समाधान के लिए भारत से मदद मांगी है. मालदीव में आपातकाल लागू करने के बाद राजनीतिक संकट खड़ा हो गया है, जिसका समाधान नहीं हो पा रहा है. देश में जारी संकट के समाधान के लिए मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने भारत से मदद मांगी है. नशीद ने भारत से त्वरित कार्रवाई की मांग की है. 

देश में आपातकाल की घोषणा
मौजूदा राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन ने देश में आपातकाल की घोषणा की है. सैनिकों ने देश के प्रधान न्यायाधीश को गिरफ्तार कर लिया. आपातकाल की घोषणा और प्रधान न्यायाधीश की गिरफ्तारी के बाद मालदीव में राजनीतिक संकट पैदा हो गया.

सुप्रीम कोर्ट ने 9 विपक्षी नेताओं को रिहा करने का आदेश दिया था
उल्‍लेखनीय है कि बीते गुरुवार को ही मालदीव के सुप्रीम कोर्ट ने जेल में बंद विपक्ष के 9 नेताओं को रिहा करने का आदेश दिया था. अदालत ने कहा था कि उन पर मुकदमा राजनीति से प्रभावित और दोषपूर्ण है. उसके बाद मालदीव में जो राजनीतिक संकट उत्पन्न हुआ, उसे दूर करने के लिए मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने भारत से मदद मांगी है.

मालदीव में हो रहे हैं प्रदर्शन
सरकार ने अदालती आदेश के क्रियान्वयन से इनकार कर दिया, जिसके बाद राजधानी में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हो रहे हैं. पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पें भी हुईं हैं. इन झड़पों के बाद यमीन ने सोमवार को आपातकाल घोषित कर दिया था. आपातकाल की घोषणा के कुछ ही घंटों बाद चीफ जस्टिस अब्दुल्ला सईद और अन्य न्यायाधीश अली हामिद को गिरफ्तार कर लिया गया. इस मामले में जांच या आरोप के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई. विपक्ष का साथ देने वाले पूर्व राष्ट्रपति मामून अब्दुल गय्यूम को उनके घर में नजरबंद कर दिया गया.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement