मथुरा में होली खेलेगी योगी की कैबिनेट

img

बरसाने की होली में खुद मौजूद रहेंगे आदित्यनाथ

नई दिल्ली: इस बार मथुरा की होली बहुत ही खास होने वाली है. दरअसल, अयोध्या में महादिवाली मनाने के बाद अब यूपी सीएम योगी आदित्यनाथमथुरा में पूरी यूपी कैबिनेट के साथ होली मनाएंगे. मथुरा में इस बार यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी होली खेलेंगे. जानकारी के मुतबिक इस बार मथुरा की मशहूर होली की हर विधा को यूपी सरकार के मंत्री मनाएंगे. यूपी सरकार मथुरा में होली मनाने की भव्य तैयारियों में काफी समय से जुटी हुई है. बताया जा रहा है कि यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री मथुरा के अलग-अलग हिस्सों में होली मनाएंगे. इस बार ऐसा पहला मौका होगा जब सूबे के मुख्यमंत्री खुद बरसाने की होली में भागीदारी कर रहे होंगे.

यह है असली वजह
होली के इस कार्यक्रम को और भव्य बनाने के उद्देश्य से यूपी सरकार ने केन्द्र सरकार के मंत्रियों को भी आयोजन का निमंत्रण भेजा है. दरअसल, योगी सरकार मथुरा की होली की ब्रांडिंग विश्व स्तर पर करनी चाहती है. यही वजह कि इतने वृहद्स्तर पर तैयारियां चल रही हैं. राज्य सरकार को इससे पर्यटन बढ़ने की पूरी उम्मीद है.

पिछली सरकारें धार्मिक स्थल के महत्व को भूल गई थीं
यूपी सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने Zee News से बातचीत में कहा, "बीजेपी सरकार अयोध्या, मथुरा, काशी पर ध्यान देने वाली सरकार है. पिछली सरकारें धार्मिक स्थल के महत्व को भूल गई थीं. हम मथुरा की होली की ब्रांडिंग विश्व स्तर पर करेंगे. योगी जी स्वयं होली खेलेंगे. हमारे कैबिनेट के साथी भी मौजूद रहेंगे. कार्यक्रम की तैयारी चल रही है."

भगवान कृष्ण और राधा से हुई थी योगी आदित्यनाथ और हेमा मालिनी की तुलना
आपको याद दिला दें कि अभी कुछ हफ्तों पहले यूपी सरकार में धर्मार्थ कार्य एवं संस्कृति मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने भी कुछ ऐसा ही बयान दिया था. दरअसल, मीडिया से बात करते वक्त मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और सांसद हेमा मालिनी की तुलना भगवान कृष्ण और राधा से कर बैठे थे. मथुरा की छाता विधानसभा से विधायक चौधरी होली की तैयारियों की बात करते समय मीडिया के सामने बोल गए कि या तो राधा-कृष्ण ने होली थी या अब उनके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ और हेमा मालिनी की होली होगी.

आपको बता दें कि बरसाना की विश्व प्रसिद्ध लट्ठमार होली की तैयारियों को लेकर रविवार (24 दिसंबर) को मीटिंग थी. इस मीटिंग में पर्यटन सचिव ने धर्मार्थ कार्य एवं संस्कृति मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, मथुरा की सांसद हेमा मालिनी और जनपद के सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बातचीत की.

यह बैठक इसीलिए की गई थी कि इस सांस्कृतिक, पारंपरिक और ऐतिहासिक होली को और भव्य रूप कैसे दिया जाए. बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में कैबिनेट मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने सीएम योगी आदित्यनाथ और सांसद हेमा मालिनी की तुलना भगवान कृष्ण और राधा से कर दी. होली की तैयारियों के बारे में बताते हुए वह बोल गए कि या तो राधा-कृष्ण ने होली खेली थी या अब योगी जी और हेमा जी की होली होगी. यह होली अपने आप में अनूठी होगी.

सांसद हेमा मालिनी ने भी बताया था कि मथुरा में यमुना जी के किनारे विश्राम घाट पर 23 और 24 फरवरी को होली का कार्यक्रम होगा. इसमें बड़े-बड़े कलाकार शामिल होंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इसमें मौजूद रहेंगे.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement