जम्मू-कश्मीरः अनंतनाग में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच एनकाउंटर, 2 आतंकी ढेर

img

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में 2 आतंकियों के मारे जाने की खबर है. यह मुठभेड़ जिले के लारनू इलाके के कोकेरनाग में उस वक्त हुई जब सुरक्षाबलों को वहां 2 से तीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद की गई कार्रवाई में दोनों तरफ से फायरिंग हुई. सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया. दोनों तरफ से गोलीबारी जारी. ऐसा माना जा रहा है कि लारनू में जंगलों में और आतंकी छिपे हो सकते है. इसलिए ऑपरेशन अभी भी जारी है. अभी की अपडेट में 2 आतंकी मारे जा चुके है, लेकिन शव अभी तक एक आतंकी का ही मिल सका. मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को किसी भी तरह के नुकसान की कोई खबर नहीं मिली है. आईजी पुलिस के मुताबिक इस ऑपरेशन में समय लग सकता है.

'C' कैटगरी का था मारा गया आतंकी
मारे गए आतंकी के पास से आतंकी के पास से 1 एके 47 बरामद हुई है. मारे गए आंतकी के नाम का खुलासा नहीं हुआ किया गया है लेकिन यह जानकारी मिली है कि यह C कैटेगरी का आतंकी था. इस ऑपरेशन को आर्मी, CRPF और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (जम्मू और कश्मीर) द्वारा अंजाम दिया जा रहा है. आपको बता दें कि पिछले 24 घंटों में यह दूसरा एनकाउंटर है. 

बडगाम में भी हुआ था एनकाउंटर
गौरतलब है कि इससे पहले सोमवार को भी कश्मीर के बडगाम में सेना और सुरक्षाबलों की टीम ने आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया था. सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में पहले दो आतंकवादियों को मार गिराया और उसके बाद कनीरा गांव में पास के एक घर में छिपे एक अन्य आतंकवादी को ढेर कर दिया था.

आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर में आतंकियों के सफाए के लिए सेना और सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन ऑल आउट चला रखा है. इस ऑपरेशन के तहत अब तक 200 से ज्यादा आतंकियों को मारा गिराया गया है.

आतंकियों ने सोपोर में किया था आईईडी ब्लास्ट
बता दें इससे पहले 6 जनवरी को कश्मीर के सोपोर में आतंकियों द्वारा लगाए गए एक आईईडी में विस्फोट से गश्त पर निकले चार पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे. भारतीय रिजर्व पुलिस की तीसरी बटालियन के चारों पुलिसकर्मी उत्तरी कश्मीर के कस्बे में कानून-व्यवस्था बनाए रखने की ड्यूटी पर तैनात थे. श्रीनगर से करीब 50 किलोमीटर दूर सोपोर के एक बाजार में आतंकियों ने आईईडी लगाया था. अलगाववादियों द्वारा आहूत हड़ताल को देखते हुए पुलिसकर्मी इलाके में गश्त कर रहे थे.

हड़ताल के कारण बाजार बंद था . इस विस्फोट में डोडा निवासी-सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) इरशाद अहमद, बारामूला में रोहमा रफियाबाद इलाके के निवासी कांस्टेबल गुलाम नबी, विलगाम , हंडवाड़ा निवासी- कांस्टेबल परवेज अहमद और सोगाम, कुपवाड़ा निवासी कांस्टेबल मोहम्मद आमीन शहीद हो गए. 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement