B'day Special: पीएम मोदी, योगी और राजनाथ ने दी जेटली को जन्मदिन की बधाई

img

नई दिल्ली: मोदी कैबिनेट में वित्त मंत्रालय जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाल रहे अरुण जेटली आज अपना 65वां जन्मदिन मना रहे हैं. जेटली भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष और कद्दावर नेताओं में से एक माने जाते हैं. अरुण जेटली का जन्म 28 दिसंबर साल 1952 को नई दिल्ली में हुआ था. अरुण जेटली के जन्मदिन के मौके पर पीएम मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम बीजेपी के नेताओं ने उन्हें बधाई दी. पीएम मोदी ने अपने बधाई संदेश में अरुण जेटली की लंबी उम्र और बेहतर स्वास्थ्य की कामना भी की.

पीएम मोदी ने ट्विटर पर अपने संदेश में लिखा, "मेरे अच्छे सहयोगी अरुण जेटली जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं. मैं आपके लंबे जीवन और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं".

Warm birthday greetings to my valued colleague Shri @arunjaitley Ji. I pray for his long and healthy life.

— Narendra Modi (@narendramodi) December 28, 2017

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उनके स्वास्थ्य और लंबी उम्र की प्रार्थना की. योगी ने ट्विटर पर लिखा, "श्री अरुण जेटली जी को जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनायें, आपकी दीर्घायु व स्वास्थ्य के लिये ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ।".

श्री @arunjaitley जी को जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनायें, आपकी दीर्घायु व स्वास्थ्य के लिये ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ।

— Yogi Adityanath (@myogiadityanath) December 28, 2017

केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपने बधाई संदेश में ट्विटर पर लिखा, "मेरे सहयोगी श्री अरुण जेटली को आज उनके जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं. भगवान उन्हें अच्छा स्वास्थ्य और लंबा जीवन दे."

Warm wishes to my colleague Shri @arunjaitley on his birthday today. May God bless him with good health and long life.

— Rajnath Singh (@rajnathsingh) December 28, 2017

आपको बता दें कि अरुण जेटली का जन्म 28 दिसंबर साल 1952 को नई दिल्ली में हुआ था. अरुण जेटली बचपन से ही पढ़ने में काफी अच्छे छात्रों में से गिने जाते थे. जेटली ने शुरुआती शिक्षा सेंट जेवियर्स स्कूल, नई दिल्ली से पूरी की. वे बचपन में सीए बनना चाहते थे. अरुण जेटली ने दिल्ली के श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से इकोनॉमिक्स में स्नातक की पढ़ाई की और उसके बाद दिल्ली विश्वविद्यालय से लॉ की पढ़ाई भी पूरी की. कॉलेज में पढ़ाई के दौरान 1974 में अरुण जेटली दिल्ली विश्वविद्यालय में छात्र संघ के अध्यक्ष भी चुने गए थे.

आपातकाल के दौरान अरुण जेटली जेल भी गए थे. जेल से बाहर आने के बाद उन्होंने जनसंघ ज्वाइन कर लिया था. साल 1980 में भारतीय जनता पार्टी के गठन के समय अरुण जेटली को इसकी यूथ विंग का अध्यक्ष बनाया गया था. अरुण जेटली को युवाओं को राजनीति में सक्रिय रूप से लाने की जिम्मेदारी मिली थी.

साल 1989 में अरुण जेटली को विश्वनाथ प्रताप सिंह के नेतृत्व में अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के रूप में नियुक्त किया गया था. बोफोर्स घोटाले के मामले की कागजी कार्रवाई अरुण जेटली ने ही की थी.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement