रांची: CBI ने पूर्व आईपीएस अधिकारी पीएस नटराजन को यौन उत्पीड़न मामले में किया बरी

img

रांची: केंद्रीय जांच ब्यूरो की विशेष अदालत ने झारखंड कैडर के भारतीय पुलिस सेवा के पूर्व अधिकारी पी एस नटराजन को एक आदिवासी महिला के यौन उत्पीड़न के आरोपों से बरी कर दिया. रांची स्थित शिवपाल सिंह की विशेष सीबीआई अदालत ने प्रदेश के पूर्व वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी पी एस नटराजन को अगस्त, 2005 के महिला के यौन उत्पीड़न के मामले में बरी कर दिया.

नटराजन पर सुषमा बड़ाई नामक एक आदिवासी महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था जिसके आधार पर राज्य सरकार ने उन्हें निलंबित कर पहले मामले की जांच करवायी और फिर प्रथम दृष्ट्या उनके दोषी पाये जाने पर उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया था. 

2005 का है मामला 
ये मामला 2005 का है. 12 साल तक चले सुनवाई में अदालत में 71 गवाह पेश किए गए. आईजी नटराजन पर एससी-एसटी एक्ट के तहत 2005 में मामला दर्ज किया गया था. आईपीएस पीएस नटराजन को झारखंड सरकार ने लंबे समय तक निलंबित रखा. राज्य सरकार ने उन्हें निलंबित कर पहले मामले की जांच करवाई और फिर प्रथम दृष्ट्या उनके दोषी पाये जाने पर उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया था. 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement