अय्यर का निलंबन, कांग्रेस का रणनीतिक निर्णय- जेटली

img

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं वित्त मंत्री अरुण जेटली निलंबित किए जाने के कांग्रेस के फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीटर पर कहा, मणिशंकर अय्यर क नीच ली टिप्पणी -जानबूझकर दिया गया जातिवादी बयान, एक सुविधाजनक माफी, एक रणनीतिक निलंबन। लोगों को इस खेल को ध्यान से देखना चाहिए। भाजपा के प्रमुख रणनीतिकारों में से एक जेतली ने कल अय्यर के मोदी को नीच और असभ्य कहे जाने वाले बयान पर निशाना साधते हुए कहा था कि यह कांग्रेस की सोची समझी रणनीति है और जब लोग इससे आहत होते हैं तो वे माफी मांग लेते हैं।  उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि प्रधानमंत्री के खिलाफ गंदी भाषा का इस्तेमाल करना और गलत सूचनाएं फैलाना कांग्रेस की सोची समझी रणनीति है। जब लोग इससे आहत होते हैं तो वे माफी मांग लेते हैं। 

उन्होंने कहा कि यह केवल खराब भाषा का नहीं अपितु कांग्रेस की मानसिकता का मामला है जो कहती है कि सिर्फ एक परिवार ही देश पर राज कर सकता है । कोई पिछड़े तबके से प्रधानमंत्री बन जाता है तो वे उसे चायवाला और नीच कहते हैं।  गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के लिए प्रचार के कल अंतिम दिन अय्यर की मोदी को ‘नीच’ और ‘असभ्य’ बताने वाली टिप्पणी ने राजनीतिक घमासान मचा दिया।

मोदी के जवाबी हमले से कांग्रेस बैकफुट पर आ गयी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के पल्ला झाड़ लेने के बाद अय्यर को माफी मांगने के लिए विवश होना पड़ा। लेकिन इसके बावजूद विवाद थमता नहीं देख रात को अय्यर को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया और उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।  

कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कल रात ट्वीट पर यह जानकारी दी। उन्होंने सवाल किया कि क्या मोदी भी कभी इस तरह का साहस दिखा सकते हैं। उन्होंने लिखा, यही है कांग्रेस का गांधीवादी नेतृत्व एवं विरोधी के प्रति सम्मान की भावना। कांग्रेस ने मणिशंकर अय्यर को कारण बताओ नोटिस जारी कर प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित कर दिया है। क्या मोदी जी कभी यह साहस दिखाएंगे?

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement