गुजरात चुनाव: प्रचार के दौरान दलित नेता जिग्नेश मेवाणी पर हमला

img

नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा चुनाव में मंगलवार को प्रचार के दौरान दलित नेता जिग्नेश मेवाणी और निर्दलीय प्रत्याशी पर हमला हुआ है. गनीमत रही कि वे इस हमले में बाल-बाल बच गए. इस हमले में ठाकोर सेना का शख्स घायल हो गया है. जिग्नेश मेवाणी ने अपने आधिकारिक ट्विटर पेज पर ट्वीट किया, 'भाजपा और संघ को ये नहीं पता कि उनके हर हमले से मुझे भाजपा के खिलाफ लड़ने की और ताकत मिलती जा रही है. संघियों कान खोलकर सुन लो, यह बापू का गुजरात है. मेरे ऊपर हुए हर एक हमले के साथ तुम्हारी हार और बड़ी होती जाएगी.'

जिग्नेश मेवाणी पर जब यह हमला हुआ उस वक्त वह बनासकांठा जिले के पालनपुर के तकरवाडा गांव में चुनाव प्रचार के लिए जा रहे थे. पुलिस ने मामले में शिकायत दर्ज कर आरोपी लोगों की तलाश में जुट गई है. 

निर्दलीय प्रत्याशी जिग्नेश को है कांग्रेस का समर्थन
इससे पहले मेवानी ने चुनाव लड़ने में रुचि नहीं दिखाई थी और कांग्रेस के प्रति समर्थन दिखाया था. मेवानी ने यह घोषणा कांग्रेस की ओर से गुजरात विधानसभा चुनावों के लिए दूसरे चरण के लिए तीसरी सूची जारी के बाद की थी. मेवानी ने एक ट्वीट में कहा था, "दोस्तों, मैं गुजरात के बनासकांठा जिले के वडगाम-11 सीट से एक निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ रहा है. हम लड़ेंगे, हम जीतेंगे."

कांग्रेस ने अपनी तीसरी सूची में वडगाम निर्वाचन क्षेत्र से किसी को भी टिकट नहीं दिया, इस सीट पर चुनाव 14 दिसंबर को होना है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मेवानी को बधाई दी थी और युवा कार्यकर्ता को अपनी शुभकामनाएं दीं थी.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement