पद्मावती विवाद: पुलिस के लिए पहेली बनी चेतन की मौत

img

नई दिल्ली: जयपुर के नाहरगढ़ में युवक की मौत पुलिस के लिए पहेली बना हुआ है। पुलिस और मृत के परिजन दोनों ही चेतन की मौत को फिल्म पद्मावती विवाद से जुड़ा मामला नहीं मान रहे हैं। दरअसल, शुक्रवार को ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में नाहरगढ़ किले की दीवार से 40 वर्षीय चेतन सैनी का शव लटका हुआ मिला। जिसके पास पत्थरों पर फिल्म पद्मावती के संदर्भ में लिखे हुए कुछ संदेश मिले और इस मौत को पद्मावती के विरोध में देखा जाने लगा।

पत्नी से हुई थी फोन पर बात
पुलिस की पड़ताल में सामने आया कि करीब चेतन सैनी गुरुवार दोपहर करीब साढ़े 3 बजे घर से निकलने के बाद उसने पत्नी से बात की थी। चेतन ने पत्नी को मोबाइल पर कहा था कि वह रात 9 बजे तक घर लौट आएगा। इसके बाद भी देर रात तक चेतन घर नहीं लौटा, तब परिजनों ने उसे फोन किया, तो मोबाइल फोन बंद आने लगा। 

शव वाली जगह मिले विवादित वाक्य
शव के आसपास किले की दीवार और फर्श पर बिछे पत्थरों पर दो समुदायों के बीच आपस में तनाव पैदा करने के मकसद से कई विवादित वाक्य लिखे गए थे। ऐसा करीब 35 स्थानों पर लिखा मिला।
पत्थरों को पानी से धोया
ब्रह्मपुरी थाना पुलिस ने मौके की पड़ताल करने के बाद घटनास्थल पर मौजूद पत्थरों पर कोयले से लिखे विवादित वाक्यों को शब्द पानी से धो दिया।पत्थरों पर लिखे वाक्य चेतन के हैं तो इस सवाल का भी जबाव नहीं है कि इतना कुछ लिखने वाला अपनी परेशानी क्यों छिपाएगा।

सुसाइड नोट क्यों नहीं लिखा
सवाल यह भी उठता है कि अगर पढ़ा लिखा चेतन किसी से परेशान था तो उसने आत्महत्या पूर्व आपबीती क्यों नहीं लिखी। पत्थरों पर लिखे वाक्य चेतन के हैं तो इस सवाल का भी जबाव नहीं है कि इतना कुछ लिखने वाला अपनी परेशानी क्यों छिपाएगा। 

बात पद्मावती की थी तो यह साम्प्रदायिक संदेश क्यों
एक अन्य चट्टान पर इस हत्या को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की गई है। जिसमें लिखी बातों से ऐसा लगे कि ये बातें किसी मुसलमान ने लिखी हैं। चट्टान पर लिखा है कि, हर काफिर का यही हाल होगा। जो काफिर को मारेगा, अल्लाह को प्यारा होगा। हम पुतले नहीं लटकाते/अल्लाह के बंदे।

मरने से पहले चेतन ने ली कई सेल्फी
चेतन पेशे से एक अदना सा जौहरी था। जयपुर में इस किले के पास ही नाहरी का नाका इलाके में रहता था। गुरुवार शाम पांच बजे घर से निकला रात साढ़े नौ बजे आने का कहकर लेकिन फिर लौटा नहीं। शुक्रवार सुबह उसका शव दीवार से लटका पूरे शहर ने देखा। चेतन का शव दीवार से मुश्किल से खींचकर निकाला तो उसकी जेब से एक मोबाइल निकला। जिसमें कई सेल्फी थी। ढ़लते सूरज के साथ एक पर्ची थी। जिसमें 4 लाख 90 हजार रुपए लिखे थे और एक शख्स का नाम। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement