पद्मावती: 'दीपिका पादुकोण को अग्नि कुंड में जिंदा जलाने वाले को 1 करोड़ रुपये का इनाम'

img

बरेली: 'पद्मावती' फिल्‍म की रिलीज डेट टलने के बावजूद इससे जुड़ा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. कुछ संगठनों द्वारा फिल्‍म में इतिहास से कथित छेड़छाड़ के आरोपों के बीच स्‍थानीय अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा (ABKM) के युवा ईकाई नेता भुवनेश्‍वर सिंह ने कहा जो दीपिका पादुकोण को अग्नि कुंड में जिंदा जला देगा, उसको एक करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा. 

भुवनेश्‍वर सिंह ने कहा, ''दीपिका को यह पता होना चाहिए कि जब कोई जिंदा जलता है तो उसको कैसा लगता है. अभिनेत्री कभी भी रानी पद्मावती के त्‍याग (जौहर) को नहीं जान पाएंगी. जो भी व्‍यक्ति उनको जिंदा जलाएगा, उसको एक करोड़ रुपये दिए जाएंगे. हम मांग करते हैं कि संगठन के पदाधिकारियों को रिलीज से पहले फिल्‍म दिखाई जानी चाहिए.''

इसी बीच हरियाणा बीजेपी के चीफ मीडिया कॉर्डिनेटर सूरज पाल अम्मू ने एक धमकी भरा बयान दे डाला. ANI न्यूज के मुताबिक, अम्मू ने कहा कि हम दीपिका पादुकोण या भंसाली का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपये देंगे और उसके परिवार की देखरेख भी करेंगे. इतना ही नहीं, अम्मू ने मेरठ के उस शख्स की तारीफ की जिसने दीपिका पादुकोण का सर काटने वाले को 5 करोड़ रुपये देने की घोषणा की थी. उन्होंने फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका निभाने वाले रणवीर सिंह को धमकी देते हुए कहा, "अगर तुमने अपने शब्द वापस नहीं लिए तो तेरी टांगों को तोड़कर तेरे हाथ में रख देंगे."  

अम्मू ने कहा, "मैं मेरठ के उस युवक को बधाई देना चाहता हूं जिसने दीपिका, भंसाली का सिर काटने वाले को 5 करोड़ रुपये देने की बात कही थी. हम दोनों में से किसी का सिर काटने वाले को 10 करोड़ देंगे और उसके परिवार की जरूरतें पूरी करेंगे." 

इसके साथ ही 'पद्मावती' के निर्माताओं ने कहा कि उन्होंने संजय लीला भंसाली की इस फिल्म को रिलीज करने की प्रस्तावित तारीख टाल दी है. अपने बयान में 'वायकॉम18 मोशन पिक्चर्स' के एक प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने 'स्वेच्छा' से यह फैसला किया है. 'पद्मावती' के निर्माण में शामिल स्टूडियो 'वायाकॉम18 मोशन पिक्चर्स' ने स्वेच्छा से फिल्म को रिलीज करने की तारीख एक दिसंबर 2017 से आगे बढ़ा दी है. 

प्रवक्ता ने कहा कि 'वायाकॉम18 मोशन पिक्चर्स' देश के कानून और केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) जैसी वैधानिक संस्थाओं का पूरा सम्मान करती है. उन्होंने कहा कि एक 'जिम्मेदार और कानून का पालन करने वाले कॉरपोरेट नागरिक' के तौर पर वह स्थापित प्रक्रियाओं एवं परंपराओं का पालन करने के लिए प्रतिबद्ध है.

'पद्मावती' फिल्म पर उठे विवादों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा कि फिल्म से जब तक विवादित अंश नहीं हटाये जायेंगे तब तक इस फिल्म को प्रदेश में रिलीज करने की इजाजत नहीं दी जायेंगी.उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ''मैं प्रदेश का मनोरंजन कर मंत्री भी हूं, हम उत्तर प्रदेश में इस फिल्म को तब तक रिलीज नही होने देंगे जब तक कि इसमें से विवादित अंश न हटा दिये जाये.'' 

उन्होंने कहा, ''उन्होंने मुगलों के सामने आत्मसर्मपण के बजाय अपने जीवन का बलिदान दे दिया और इतिहास में अपना नाम अमर कर दिया. हमलावरों ने देश में बहुत उत्पात मचाया, लेकिन रानी ने अपने सतीत्व और आत्मसम्मान की रक्षा के लिये अपने को 'जौहर' में जिंदा जला लिया.''

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement