अपनी बेटी खो देने के दर्द से कभी नहीं उबर पाएंगे तलवार दंपति- दिनेश तलवार

img

नयी दिल्ली। नूपुर और राजेश तलवार अपनी बेटी को खो देने के दर्द से कभी नहीं उबर पाएंगे, लेकिन एक सामान्य जीवन में लौटने की कोशिश करेंगे। राजेश के भाई दिनेश तलवार ने यह कहा। दिनेश ने कहा कि दंत चिकित्सक दंपति मीडिया से बात करने की स्थिति में नहीं हैं। यह दंपति गाजियाबाद की डासना जेल से रिहा हुआ। उन्होंने कहा कि आरुषि को खोने का दर्द और उसके खोने का दुख कभी नहीं जा सकता। वे लोग बात करने की स्थिति में नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि दंपति को 12 अक्तूबर को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया था। गौरतलब है कि इन लोगों को एक निचली अदालत ने अपनी बेटी आरुषि और घरेलू सहायक हेमराज की हत्या को लेकर दोषी ठहराया था। पुलिस तलवार दंपति को नोएडा के जलवायु विहार स्थित आरुषि के नाना-नानी के घर ले गई।

नोएडा में मीडिया से बात करते हुए दिनेश तलवार ने आरुषि और हेमराज से जुड़ी मीडिया में आई खबरों की ओर इशारा किया और कहा कि वे दोषी नहीं थे। उन्होंने कहा कि इस कहानी में आरुषि और हेमराज का नाम जोड़ा गया। न सिर्फ उसके माता पिता, बल्कि आरुषि के साथ भी यह सलूक किया गया। इस वक्त हम कह सकते हैं कि उनमें से कोई दोषी नहीं है। उन्होंने मीडिया से दंपति की निजता का सम्मान करने को कहा। उन्होंने कहा, ‘‘कृपया उन्हें सामान्य जीवन में वापस लौटने के लिए कुछ वक्त दीजिए।’’

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement