केरल में दलित को मंदिर का पुजारी बनाने का माकपा ने स्वागत किया

img

नयी दिल्ली। माकपा ने केरल में दलित समुदाय के एक व्यक्ति को मंदिर का पुजारी नियुक्त किये जाने का स्वागत करते हुये इसे राज्य में जाति आधारित भेदभाव को खत्म कर सामाजिक न्याय सुनिश्चित करने वाली माकपा सरकार की नीतियों का नतीजा बताया।

माकपा की ओर से जारी बयान में दलित समुदाय के 22 वर्षीय युवक को मंदिर का पुजारी बनाने को क्रांतिकारी कदम बताया गया है। पार्टी ने इसे ऐतिहासिक कदम बताते हुये कहा कि सामाजिक तौर पर अहम बदलाव की वाहक बनी इस पहल से हिंदू समाज में सभी वर्गों की उचित एवं बराबर भागीदारी का रास्ता खुला है।

केरल के पथनमथिट्ट जिले के वलनजवत्तम में 22 वर्षीय येदु कृष्णन को स्थानीय शिव मंदिर का पुजारी नियुक्त किया गया है। राज्य की माकपा सरकार की निगरानी में त्रावणकोर देवस्वम भर्ती बोर्ड ने हाल ही में 30 गैर ब्राह्मण पुजारियों की नियुक्ति की है। इनमें छह दलित समुदाय के पुजारी भी शामिल हैं। बोर्ड राज्य के 1200 मंदिरों का प्रबंधन करता है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement