फादर टॉम ने बताया कैसे 18 महीने ISIS के खूंखारों के चंगुल में रहे, किसे करते थे याद?

img

भारत सरकार की मदद से आतंकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के चंगुल से लौटकर आए फादर टॉम उजहन्नालिल ने अपनी आपबीती सुनाई. मीडिया के कैमरों के सामने फादर टॉम ने बताया कि 18 महीने उन्होंने आतंकियों के चंगुल में कैसे बिताए. उन्होंने कहा कि लोगों की प्रार्थनाओं की ताकत ने अपहर्ताओं के हृदय को परिवर्तित कर दिया और उन्होंने मुझे चोट नहीं पहुंचाया और साथ ही मुस्लिम के पवित्र महीने रमजान में खाना दिया. एक स्वागत समारोह में फादर टॉम उजहन्नालिल ने कहा, 'मुझे लगता है कि लोगों की प्रार्थना और उनके त्याग ने मेरे अपहर्ताओं का हृदय परिवर्तन कर दिया और उन्हें मुझे चोट पहुंचाने से रोका...मैं आश्वस्त हूं कि ईश्वर ने कुछ किया.’ वेटिकन सिटी में आराम और स्वास्थ्य लाभ के बाद 59 वर्षीय कैथोलिक पादरी मंगलवार को दिल्ली वापस लौटे.

उन्होंने 28 सितंबर को नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. मोदी के साथ अपनी मुलाकात पर फादर टॉम ने कहा, ‘प्रधानमंत्री के साथ बातचीत का सबसे दिलचस्प हिस्सा वह रहा जब उन्होंने कहा कि अब आप आजाद हैं और आपको मजबूत होना चाहिए और लोगों की सेवा करनी चाहिए.’

इससे पहले यमन में 18 महीने तक आईएसआईएस की कैद की रहने के बाद मुक्त हुए फादर टॉम उझुन्नालिल 29 सितंबर को बेंगलूरू पहुंचे और अपने धर्मसंघ के पादरियों से मुलाकात की. दिल्ली से यहां पहुंचे 59 वर्षीय कैथोलिक पादरी उझुन्नालिल ने हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा, ‘मैं सर्वशक्तिमान ईश्वर का शुक्रिया अदा करता हूं.

मैं ईसा मसीह के नाम पर सबका शुक्रिया अदा करता हूं.’ वह वेटिकन सिटी में स्वास्थ्य लाभ लेने के बाद कल दिल्ली लौटे थे जहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. उझुन्नालिल का ताल्लुक ‘कॉन्ग्रेगेशन ऑफ सालिजियान्स ऑफ डॉन बोस्को’ से है. अदन में कथित रूप से एक आतंकवादी हमले के दौरन उनका अपहरण कर लिया गया था. उन्हें अज्ञात स्थान ले जाया गया था.

हवाई अड्डे पर उनका स्वागत बेंगलूरू विकास मंत्री के. जे. जॉर्ज, कई पादरियों और ईसाई नेताओं ने किया. यहां पहुंचने के बाद उन्हें ‘डॉन बोस्को प्रोविंशियल हाउस’ ले जाया गया जहां फादर जोस कोईकल ने उनका स्वागत किया. उन्होंने सेंट जॉन मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भी एक बैठक में हिस्सा लिया.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement