ब्रिटेन में बसे भारतीय जरूर देखें कैमडेन दुर्गा पूजा

img

कोलकाता। ब्रिटेन में रह रहे भारतीयों द्वारा आयोजित वहां की सबसे प्राचीन कैमडेन दुर्गा पूजा इस बार 54वें वर्ष में प्रवेश कर चुकी है। वर्ष 1963 में शुरू हुई लंदन की कैमडेन नाम से प्रसिद्ध इस दुर्गा पूजा की शुरूआत उद्योगपति लक्ष्मी निवास मित्तल ने की थी। इसका आयोजन मध्य लंदन में किंग क्रॉस स्टेशन के ठीक सामने कैमडेन सेंटर में किया जाता है। इस साल, मेट्रोपॉलिटन पुलिस लंदन की फॉरेंसिक विशेषज्ञ वर्षा मिस्त्री को पुलिस सेवा में योगदान देने के लिए ‘प्राइड ऑफ लंदन” पुरस्कार से नवाजा जाएगा।

यह पुरस्कार समारोह महानवमी यानि 29 सितंबर को आयोजित होगा। लंदन दुर्गा पूजा दशहरा समिति के एक आयोजक सदस्य ने बताया कि साउथवार्क के मेयर और भारतीय उप उच्चायुक्त दिनेश पटनायक इस पुरस्कार समारोह में शामिल होंगे। बंगाल के लोकप्रिय और सदियों पुरानी और लोक प्रदर्शन कला के अभिन्न अंग, जात्रा को भारती प्रवासियों और विदेशियों के सामने प्रस्तुत किया जाएगा। 

30 सितंबर को विजय दशमी के दिन महाकाव्य महाभारत पर आधारित जात्रा “द्रौपदी वस्त्रहरण” का आयोजन किया जाएगा। विदेश में बसे लेकिन अपनी संस्कृति से जुड़े बंगालियों के लिए एक अक्तूबर को कैमडेन में आयोजित एक सांस्कृतिक समारोह में लोकप्रिय गायिका लोपामुद्रा मित्रा और जॉय सरकार प्रस्तुति देंगे।

Similar Post