CBI ने भ्रष्टाचार मामले में HC के पूर्व न्यायाधीश को गिरफ्तार किया

img

नयी दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने भ्रष्टाचार के एक मामले में ओडिशा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश इशरत मसरूर कुद्दुसी और पांच अन्य को गिरफ्तार किया है। सीबीआई के सूत्रों ने यह जानकारी दी। सीबीआई के एक प्रवक्ता ने बताया कि मामले में कुद्दुसी के अलावा भावना पांडे और लखनऊ में एक मेडिकल कॉलेज चलाने वाले प्रसाद एजुकेशनल ट्रस्ट के बीपी यादव और पलाश यादव, एक बिचौलिया विश्वनाथ अग्रवाल और हवाला कारोबारी रामदेव सारस्वत को गिरफ्तार किया गया है। 

यह गिरफ्तारी कल आठ स्थानों पर छापेमारी के बाद गुरुवार रात की गई। इस दौरान ग्रेटर कैलाश में न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) कुद्दुसी के आवास की भी तलाशी ली गई थी। इसके अलावा भुवनेश्वर और लखनऊ में भी छापे मारे गए थे। उनके भाई नुसरत कुद्दुसी ने बताया, ‘‘सीबीआई ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश के लखनऊ और फैजाबाद के घरों पर भी आज सुबह नौ बजे के करीब छापा मारा।’’

मामला लखनऊ स्थित प्रसाद इन्स्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज का है जिसपर सरकार ने 2017-18 और 2018-19 में छात्रों का दाखिला लेने से रोक लगा दी थी। सीबीआई सूत्रों ने बताया कि ट्रस्ट के अध्यक्ष बीपी यादव ने कॉलेज में छात्रों के दाखिले लेने के लिए उच्चतम न्यायालय और इलाहाबाद उच्च न्यायालय का रूख किया था।

Similar Post