श्रीनगर के कुछ हिस्सों में निषेधाज्ञा लागू, परेशानी उत्पन्न होने की थी आशंका

img

श्रीनगर। एक मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों के मारे जाने के बाद परेशानी उत्पन्न होने की आशंका के मद्देनजर प्रशासन ने आज श्रीनगर शहर के कुछ हिस्सों में निषेधाज्ञा लागू कर दी। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के पांच थाना क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि शहर के नौहट्टा, एम आर गंज, रैनावारी, खानयार और सफाकदल थाना क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले इलाकों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है। 

अधिकारियों ने बताया के किसी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए ऐहतियाती उपाय के तहत यह कदम उठाया गया है। उन्होंने बताया कि ऐहतियात के तौर पर पूरी घाटी में कई शैक्षणिक संस्थानों में शैक्षिक गतिविधियां रोक दी गयी हैं। अधिकारी ने बताया कि गंदेरबाल, अनंतनाग, पुलवामा और शोपियां जिलों में सभी कॉलेजों और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों को फिलहाल बंद कर दिया गया है। बारामूला जिले में भी ऐसे कई उच्चतर शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया गया है। हालांकि, उन्होंने बताया कि इन इलाकों में अन्य सभी स्कूल सामान्य तौर पर चल रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि हुर्रियत कांफ्रेंस के उदारवादी गुट के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक को यहां निगीन में उनके आवास पर नजरबंद रखा गया है। 

शहर के नौगाम के आरिबाग इलाके में सुरक्षा बलों के साथ कल एक मुठभेड़ में दो आतंकवादी अबू इस्माइल और उसका सहयोगी अबू कासिम मारे गए थे। इस्माइल दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में 10 जुलाई को अमरनाथ तीर्थयात्रियों को लेकर जा रही एक बस पर किए गए हमले का मास्टरमाइंड था। उस हमले में आठ तीर्थयात्रियों की मौत हो गयी थी।

Similar Post