'ब्लू व्हेल' गेम के चक्कर में एमबीए के छात्र ने की आत्महत्या

img

पुडुचेरी : जानलेवा ‘ब्लू व्हेल गेम’ पर देश में प्रतिबंध के बीच पुड्डुचेरी में एमबीए के एक छात्र ने कल रात इस खेल की अंतिम चुनौती को पूरा करते हुए कथित रुप से आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार पांडिचेरी केंद्रीय विश्वविद्यालय में एमबीए के प्रथम वर्ष के छात्र शशिकुमार बोरा (23)ने अपने हॉस्टल के कमरे में फांसी लगाकर कथित रुप से आत्महत्या कर ली। वह मूल रुप से असम का रहने वाला था।

पुलिस ने छात्र के मोबाइल फोन की जांच करने के बाद इस बात की पुष्टि की कि आत्महत्या करने से पहले वह‘ब्लू व्हेल  गेम’खेल रहा था।  आगे की जांच के लिए फोन को साइबर सेल के पास भेज दिया गया है। शशिकुमार के दोस्तों ने पुलिस को बताया कि कल रात वह उनसे बातचीत कर रहा था जिसके बाद वह अपने कमरे की ओर चला गया। शशिकुमार के दोस्तों ने भी बताया कि वह‘ब्लू व्हेल गेम’खेलने का आदी था।
शव को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि इस हादसे की जानकारी शशिकुमार के परिजनों को भी दे दी गई है।

पुलिस और विभिन्न संगठनों की ओर से इन दिनों‘ब्लू व्हेल गेम’के नकारात्मक प्रभाव को लेकर उसके खिलाफ पूरे देश में एक व्यापक अभियान चलाया गया है। इससे पूर्व तमिलनाडु के मदुरै में 19 वर्षीय एक छात्र ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है कि छात्र का यह कदम ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ से जुड़ा हुआ है। इस गेम से संबंधित पहला मामला मुंबई का था जिसमें नौंवी कक्षा के एक छात्र ने कथित रुप से आत्महत्या कर ली। गौरतलब है कि इस गेम में शामिल होने वाले प्रतियोगियों को 50 दिन में 50 काम पूरे करने के लिए दिए जाते हैं, जिनमें अंतिम काम  आत्महत्या करना होता है।

Similar Post