51 सांसदों, विधायकों पर महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले

img

एक अध्ययन में कहा गया है कि 51 सांसदों और विधायकों ने महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों की घोषणा की है जिनमें कथित दुष्कर्म और अपहरण जैसे मामले भी शामिल हैं। चुनाव सुधारों के लिये काम करने वाले एक गैर सरकारी संगठन असोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स द्वारा किये गये एक अध्ययन में कहा गया कि 51 में से 48 विधानसभाओं के सदस्य हैं और तीन संसद के सदस्य हैं।

पार्टीवार विवरण देते हुये अध्ययन में कहा गया कि विभिन्न मान्यता प्राप्त दलों में भाजपा के विधायकों, सांसदों की संख्या सबसे ज्यादा (14) है, इसके बाद शिवसेना (7), ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (6) के नेताओं का नंबर आता है जिन्होंने महिलाओं के खिलाफ अपराध से जुड़े मामलों की घोषणा की है।

एडीआर अध्ययन कहता है, ‘‘51 सांसद और विधायक हैं जिन्होंने अपने खिलाफ दायर महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों की घोषणा की है। इनमें हमला या महिला की गरिमा भंग करने के उद्देश्य से आपराधिक बल का इस्तेमाल, अपहरण, महिला को शादी के लिये बाध्य करना, दुष्कर्म, महिला से क्रूरता, देह व्यापार के लिये नाबालिग की खरीद-फरोख्त, महिला का अपमान करने के उद्देश्य से हावभाव का प्रदर्शन शामिल हैं।’’

Similar Post