अनुच्छेद 35ए की रक्षा हेतु लडऩा देशविरोधी नहीं है- उमर अब्दुल्ला

img

श्रीनगर: नैशनल कान्फ्रेंस के प्रधान उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि संविधान के आर्टिक्ल 35ए की रक्षा हेतु संघर्ष करना कोई देश विरोधी नहीं है।  उन्होंने कहा कि अनुच्छेद को हटाए जाने के खिलाफ अगर नैकां खड़ी हो रही है तो उस पर उंगली क्यों उठाई जा रही है क्योंकि यही अनुच्छेद जम्मू कश्मीर के लोगों को संवैधानिक गारंटी देता है। उमर ने कहा कि जाति, धर्म और रंग के भेद से परे यह अनुच्छेद जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विशेषाधिकार देता है।

द्रहाल में पार्टी वर्करों को संबोधित करते हुए उमर ने कहा कि भाजपा लोगों को प्रांत और धर्म के नाम पर बांट रही है और यह उसका जनविरोधी एजेंडा है। उमर ने कहा कि आर्टिक्ल 35ए हमारी पहचान है और हमारी विरासत को सहेजने का अवसर है और हम इसे उेसे ही नहीं जाने देंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कलम और दवात वाली पार्टी आरएसएस और भाजपा के एजेंडे पर ही काम कर रही है। पार्टी पर उन्होंने लोगों के विश्वास को तोडऩे का आरोप लगाया और कहा कि भाजपा ने भी लोगों से कई वादों को पूरा नहीं किया है। उन्होंने पीडीपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अगर पीडीपी भाजपा के साथ इसी तरह से समझौते करती रही तो वो दिन दूर नहीं जब भाजपा को पीडीपी के सहयोग की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

Similar Post