गाड़ियों के लंबे काफिले के साथ राम रहीम पंचकूला पहुँचे

img

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम आज सुबह पंचकूला के लिए रवाना हो गये जहां सीबीआई अदालत उनके खिलाफ बलात्कार के मुकदमे में फैसला सुनाएगी। उनके साथ उनके समर्थक बड़ी संख्या में अपनी अपनी गाड़ियों में निकले हैं। बताया जा रहा है कि उनके साथ 800 गाड़ियों का काफिला है।

इस बीच, चंडीगढ़ पुलिस ने डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों को चेतावनी दी है कि यदि उन्होंने केंद्र शासित प्रदेश में घुसने की कोशिश की तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुरूषों, महिलाओं एवं बच्चों समेत डेरा के करीब 1.5 लाख अनुयायी पंचकूला में एकत्र हुए हैं, जहां सीबीआई की अदालत डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ बलात्कार के मामले में अपना फैसला सुनाएगी। पुलिस ने दोहराया है कि वह हाई अलर्ट पर है।

पुलिस ने गुरुवार रात एक बयान में कहा, ‘‘किसी भी डेरा अनुयायी को चंडीगढ़ में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।’’ अधिकारियों ने कहा, ‘‘यदि वे (डेरा अनुयायी) चंडीगढ़ में प्रवेश करने की कोशिश करते हैं, तो उनके खिलाफ कानून के अनुसार कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’’ उन्होंने बताया कि शहर में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है। बड़ी संख्या में डेरा अनुयायी पंचकूला में एकत्र हो गए हैं जिसके मद्देनजर चंडीगढ़ को पहले ही संवेदनशील घोषित कर दिया गया है। सुरक्षा बल डेरा अनुयायियों से पंचकूला से जाने की अपील भी कर रहे हैं।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने भी ने अपने अनुयायियों से पंचकूला से जाने की अपील की है। इसके बावजूद कई अनुयायियों ने जाने से इनकार कर दिया और वे यहां पार्कों एवं सड़कों के किनारे बैठे रहे। हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में मोबाइल इंटरनेट एवं डेटा सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। डेरा के अनुयायियों ने शिकायत की है कि वह उस वीडियो को नहीं देख पाए जिसमें डेरा प्रमुख ने उनसे अपने घर लौटने की अपील की है।

कई अनुयायियों ने यहां से जाने से इनकार कर दिया, ऐसे में सुरक्षा बलों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। अनुयायियों को कहना है कि वह अपनी मर्जी से शहर आए हैं और डेरा प्रमुख के ‘‘दर्शन’’ करने के बाद ही यहां से जाएंगे। डेरा प्रमुख के खिलाफ सीबीआई ने पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देश पर 2002 में यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया था। राम रहीम सिंह द्वारा कथित तौर पर दो साध्वियों के यौन उत्पीड़न को लेकर अनाम चिट्ठियों के सामने आने के बाद अदालत ने यह निर्देश दिया था। डेरा प्रमुख ने इन आरोपों का खंडन किया है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement