सृजन घोटाले के आरोपी की मौत पर तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा ये...

img

नई दिल्ली: बिहार में मची सियासी उथल-पुथल के बीच सामने आए सृजन घोटाले में लगातार नए-नए खुलासे हो रहे हैं। इस बीच मामले में नया मोड़ उस वक्त आया जब घोटाले के एक आरोपी की इलाज के दौरान मौत हो गई। दरअसल, घोटाले के आरोपियों में से एक ज़िला कल्याण विभाग से निलंबित महेश मंडल को पुलिस ने 13 अगस्त को गिरफ्तार किया था।

इसके बाद अदालत ने उन्हें 15 अगस्त को जेल भेज दिया था। इस दौरान महेश ने तबीयत खराब होने की दलील दी, जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर उन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। रविवार शाम अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और आनन-फानन में उन्हें अस्पताल लाया गया, लेकिन इलाज के दौरान रविवार की रात उसकी मौत हो गई।

महेश मंडल की रहस्यमयी तरीके से हुई मौत पर आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने सवाल खड़े किए हैं। इस मौत के बाद तेजस्वी ने ट्वीट कर सृजन घोटाले की तुलना मध्य प्रदेश के व्यापमं घोटाले से की है। साथ ही ये भी आशंका जताई है कि सृजन घोटाला व्यापमं से भी ज्यादा व्यापक है। तेजस्वी ने ट्वीट किया, 'सृजन घोटाले में गिरफ्तार आरोपी जदयू नेता के पिता और आरोपी नाजिर महेश मंडल की देर रात जेल में विषम परिस्थितियों मे मौत। व्यापमं से भी व्यापक है सृजन।'

क्या है व्यापमं
व्यापमं भर्ती घोटाला मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा भर्ती घोटाला माना जाता है, इस घोटाले कई बड़े नाम सामने आए जिनमें कुछ लोग तो सलाखों के पीछे पहुंच चुके हैं। खुद हाईकोर्ट इस मामले की जांच पुलिस की स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम से करवा रही है। आरोप है कि साठगांठ कर मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले में फर्जीवाड़ा कर भर्तियां की गईं।

इस घोटाले के अंतर्गत सरकारी नौकरियों में भ्रष्टाचार कर रेवड़ियों की तरह नौकरियां बांटी गईं। दरअसल मध्य प्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल का काम मेडिकल टेस्ट जैसे पीएमटी प्रवेश परीक्षा, इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा व शैक्षिक स्तर पर बेरोजगार युवकों के लिए भर्ती के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन कराना है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement