जानलेवा बाढ़ से 65 लाख लोग प्रभावित, 56 की मौत

img

देश के कई हिस्सों में बाढ़ का कहर जारी है। बिहार में जानलेवा बाढ़ ने लोगों की जिदंगी को निगलना शुरु कर दिया है। बिहार में एक साथ कई नदियां उफान पर हैं, जिसके चलते कई लोगों की मौत हो चुकी है। बिहार के सुपौल में बाढ़ के चलते 4 लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा तीन दिन तक बिहार में 56 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं लगभग 65.37 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। वहीं कटिहार में आर्मी के जवानों ने कदवा प्रखंड के अलग-अलग जगहों में बाढ़ में फसे 4 बच्चे सहित 21 लोगों को बचाया। सभी को राहत शिविर पहुंचाया गया है। 

इसके साथ ही इस विनाशकारी बाढ़ ने असम और बंगाल के बड़े हिस्से को अपनी चपेट में लिया है। वहां का जनजीवन अस्त-व्यस्त है। देश के बाकी हिस्सों से पूर्वोत्तर का रेल संपर्क टूट गया है। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में बादल फटने की दो घटनाओं में छह लोगों की जान चली गई। छह सैन्यकर्मियों समेत दस लोग लापता हैं।

बिहार में लगभग 65.37 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित

बाढ़ से बिहार के 12 जिलों के लगभग 65.37 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि अररिया सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। एक अधिकारी ने बताया कि अररिया में 20, सीतामढ़ी में 6, किशनगंज में 5, पूर्वी व पश्चिमी चंपारण और दरभंगा में तीन-तीन लोगों और मधुबनी में 1 व्यक्ति की मौत हुई है। किशनगंज, पूर्णयिा के तीन प्रखंड और कटिहार का एक प्रखंड बाढ़ की चपेट में है,  इससे सड़कों को नुकसान पहुंचा है। 

पीएम मोदी ने हरसंभव मदद का दिया भरोसा

वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को राज्य के प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया। उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बाढ़ की स्थिति पर बात की और केंद्र से हरसंभव मदद का भरोसा दिया।

असम और अरुणाचल प्रदेश में बाढ़ की स्थिति विकट

असम में बाढ़ की स्थिति काफी गंभीर हो गई है। जहां 25 जिलों के लगभग 32 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। तीन और लोगों की इसमें जान चली गई, जिससे राज्य में मरने वालों की कुल संख्या 18 तक पहुंच गई है। वहीं अरुणाचल प्रदेश में भी बाढ़ की स्थिति काफी विकट हो गयी है। कई जिलों में लगातार हो रहे भूस्खलन से सड़क यातायात बाधित हुआ है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement