जी.एस.टी. से श्रमिकों पर बुरा असर नहीं- जेतली

img

नई दिल्ली : सरकार ने कहा है कि कारोबार का माहौल सरल बनाने और देश में एकीकृत कर ढांचा लागू करने के लिए लागू किए गए वस्तु एवं सेवाकर (जी.एस.टी.) प्रणाली का श्रमिकों पर कोई बुरा असर नहीं होगा। भारतीय मजूदर संघ ने बताया कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेतली ने श्रमिकों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ अंतर मंत्रलय समूह की बैठक के दौरान यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि सरकार श्रमिकों की हालत सुधारने और उनके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सरोकारों को प्राथमिकता देती है।

इस बैठक में केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री बंडारु दत्तात्रेय, ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल और तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धमेंद्र प्रधान तथा प्रधानमंत्री कार्यालय में मंत्री जितेंद्र सिंह भी मौजूद थे। जेतली ने कहा कि श्रमिकों पर जी.एस.टी. के असर को देखा जाएगा और उन पर अनावश्यक दबाव नहीं पड़ने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जीवन बीमा निगम और सामान्य बीमा निगम के कर्मचारियों को पैंशन का एक और विकल्प दिया जाएगा और इस संबंध में सरकार जल्दी फैसला करेगा। 

Similar Post