गुजरात राज्यसभा चुनाव में नोटा का विकल्प उपलब्ध होगा

img

अहमदाबाद। गुजरात में आठ अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव में मतदान करने वाले विधायकों के पास ‘इनमें से कोई नहीं (नोटा)’ का विकल्प भी मौजूद रहेगा। गुजरात विधानसभा के सचिव डीएम पटेल ने बताया कि वर्ष 2013 में भारत के चुनाव आयोग द्वारा जारी किए निर्देशों के मुताबिक मतपत्र पर नोटा का विकल्प प्रकाशित किया जाएगा। कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया ने कहा कि भले ही नोटा का विकल्प मौजूद हो, लेकिन उनकी पार्टी विधायकों से अहमद पटेल के लिए मतदान करने को कहेगी और इस बाबत व्हिप जारी करेगी।

इस बीच, गुजरात के प्रमुख सचिव जेएन सिंह ने सोमवार को चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेजी। कुछ दिन पहले कांग्रेस ने आयोग से राज्य में राज्यसभा के निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने की अपील करते हुए भाजपा पर विधायकों को तोड़ने की साजिश रचने का आरोप लगाया था। इसके बाद चुनाव आयोग के निर्देश पर सिंह ने शाम पांच बजे रिपोर्ट जमा कर दी। उन्होंने बताया, ''मैंने अपनी रिपोर्ट चुनाव आयोग में जमा कर दी।’’ उन्होंने कहा कि आयोग के निर्देशों पर सभी कांग्रेसी विधायकों को सुरक्षा मुहैया करवा दी गई है।

गुजरात में पार्टी के छह विधायकों के इस्तीफे के बाद 29 जुलाई को शीर्ष के कांग्रेसी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव आयुक्त एके ज्योति से मुलाकात की थी। कांग्रेसी नेताओं ने विधायकों को तोड़ने में सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग, धन और बल के इस्तेमाल का आरोप लगाया था और इनकी जांच के लिए उच्च स्तरीय समिति के गठन की मांग रखी थी जिसके बाद आयोग ने गुजरात सरकार से रिपोर्ट मांगी थी।

Similar Post