सेना अधिकारियों की पत्नियों के बीच लड़ाई का मामला पीएमओ पहुंचा

img

पंजाब के एक सैन्य अड्डे पर दो अधिकारियों की पत्नियों के बीच कथित झड़प का मामला प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) पहुंच गया है। यहां आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दोनों महिलाओं के बीच करीब एक हफ्ते पहले आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसियेशन (एडब्ल्यूडब्ल्यूए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में झड़प हुई। सूत्रों के अनुसार पीएमओ ने सेना मुख्यालय से घटना को लेकर रिपोर्ट मांगी है।

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मामले से सेना के शीर्ष अधिकारी शर्मिंदा हैं। इस तरह के मामलों की जांच आमतौर पर अंदरूनी स्तर पर होती है। सूत्रों ने बताया कि यह लड़ाई तब शुरू हुई जब सेना अड्डे के कमांडिंग ऑफिसर की पत्नी ने कथित रूप से एक लेफ्टिनेंट कर्नल की पत्नी से दुर्व्यवहार किया। सीओ की पत्नी ने दूसरी महिला के साथ मारपीट भी की। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में कई वरिष्ठ अधिकारी और उनकी पत्नियां मौजूद थीं।

लेफ्टिनेंट कर्नल ने पीएमओ, पंजाब पुलिस तथा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से मामले की शिकायत की है। सूत्रों ने कहा कि अल्पसंख्यक आयोग भी मामले की जांच कर रहा है। सूत्रों के अनुसार सेना कर्मियों की पत्नियां सेना अधिनियम के दायरे में नहीं आतीं लेकिन इस तरह के मामलों से निपटने के कई तरीके हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के मामलों से निपटने के लिए आमतौर पर काउंसलिंग सत्र आयोजित किए जाते हैं।

Similar Post