पश्चिम बंगाल के दंगा प्रभावित बदुरिया में बनी हुयी है शांति

img

कोलकाता। दंगा प्रभावित बदुरिया और उत्तरी 24 परगना जिले के आसपास के इलाकों में आज दूसरे दिन शांति बनी रही। हालांकि इंटरनेट सेवाएं ठप ही रहीं। एक फेसबुक पोस्ट को लेकर भड़की सांप्रदायिक हिंसा के बाद आज दुकानें, बाजार और व्यापारिक प्रतिष्ठान फिर से खुल गए हैं और लोगों के बाहर निकलने के साथ सामान्य जनजीवन शुरू हो गया। हालांकि, बदुरिया, स्वरूपनगर, देगंगा और उत्तरी 24 परगना जिले के बशीरहाट में इंटरनेट सेवा ठप रही।

पुलिस ने बताया कि जिले में कहीं से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है। राज्य के गृह मंत्रालय में तैनात एक वरिष्ठ अधिकारी ने को बताया कि रात में गश्त करने के लिए हिंसा प्रभावित इलाकों में बड़ी संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवानों को तैनात किया गया है। अधिकारी ने बताया, 'यहां वास्तव में स्थिति सुधरी है लेकिन हम कड़ी नजर रख रहे हैं ताकि हालात जल्द से जल्द सामान्य हो सके।'

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को घोषणा की थी कि कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) सौमित्र पाल की अध्यक्षता में एक न्यायिक आयोग बदुरिया और उत्तरी 24 परगना जिले के बशीरहाट में हुई सांप्रदायिक हिंसा की जांच करेगा। ममता ने मोदी सरकार और भाजपा पर आरोप लगाया कि वे सीमा पार से लोगों को राज्य में प्रवेश करने की इजाजत देकर शांति भंग करने और संघीय ढांचे को नष्ट करने की कोशिश कर रहे हैं।

Similar Post