बुरहान की बरसी पर पिता ने की अमन-चैन की अपील

img

श्रीनगर। आज से ठीक एक साल पहले कश्मीर घाटी में सेना ने आतंकी बुरहान वानी को मार गिराया था। आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन के खिलाफ यह सेना की बड़ी कायमाबी थी। हालांकि घाटी में लगातार बुरहान की मौत को शहादत करार देते हुए सेना और पुलिस के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं।

बुरहान की बरसी वाले दिन उसके पिता मुजफ्फर अहमद वानी ने घाटी में अमन-चैन की अपील की। एक वीडियो मैसेज में उन्होंने कहा, मैं कोई हत्या या मौत नहीं चाहता। मैं सिर्फ शांति चाहता हूं।

मालूम हो, बुरहान की बरसी के मौके पर कश्मीर घाटी में हिंसा की आशंका के चलते कई इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है। इससे पहले शनिवार सुबह घाटी में एक आतंकी हमले को अंजाम दिया गया। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान ने पुंछ में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। खबरों के अनुसार कश्मीर के बांदीपुरा में आतंकियों ने सेना को निशाना बनाया है और इस हमले में सेना के 5 जवान घायल हुए हैं। वहीं संघर्ष विराम के दौरान हुई फायरिंग में छुट्टी पर आए एक जवान और उसकी पत्नी की मौत हो गई है।

यह हमला बांदीपुरा के हाजीन इलाके में हुआ है। फिलहाल सेना ने इलाके को घेर कर आतंकियों की तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि आज ही के दिन एनकाउंटर में सेना ने आतंकी बुरहान वानी को मार गिराया था। इसके बाद आतंक का पोस्टर बॉय बने बुरहान की पहली बरसी पर कश्मीर में आतंकी हमले की आशंका जताई गई थी।

Similar Post