एसिड अटैक की शिकार गैंगरेप पीड़िता पर फिर फेंका तेजाब

img

लखनऊ। करीब तीन महीने पहले रायबरेली से लखनऊ आ रही गैंगरेप पीड़िता पर ट्रेन में एसिड अटैक हुआ था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गंभीर प्रयास के बाद उसको मौत के मुंह से निकाला गया, लेकिन शनिवार को लखनऊ में गर्ल्स हास्टल में रह रही महिला पर एक बार फिर तेजाब फेंका गया। फिलहाल उसको ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है, लेकिन तेजाब फेंकने वालों का कुछ भी पता नहीं चला है।

महिला को एक गनर भी मिला है जो गर्ल्स हास्टल के गेट पर था। बताया जा रहा है कि महिला पर उस समय हमला हुआ जब वह गर्ल्स हास्टल के कमरे से बाहर आकर पानी भर रही थी। वह लखनऊ में एसिड अटैक पीडि़तों द्वारा संचालित एक कैफे में काम करती है। पुलिस का कहना है कि महिला को चेहरे के दाहिनी तरफ नुकसान पहुचा है। महिला अभी बयान देने की हालत में नहीं है। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी ने कहा महिला गर्ल्स हॉस्टल के बाहर फोन पर बात कर रही थी तभी अंधेरे में कोई शख्स उसके पास आया और एसिड से हमला कर भाग गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस मामले में रायबरेली पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं महिला अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है।

महिला पर अलीगंज के एक गर्ल्स हास्टल में एसिड अटैक किया गया है। लखनऊ पुलिस ने महिला को सुरक्षा दी हुई थी लेकिन जब ये हमला हुआ उस वक्त सुरक्षा में तैनात सिपाही गर्ल्स हास्टल के गेट पर था। महिला दो बच्चों की मां है। उसके साथ 2008 में जायदाद विवाद की वजह से गैंगरेप किया गया था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। केस अब भी चल रहा है। 2011 व 2013 में भी महिला पर एसिड हमला हो चुका है।

लखनऊ में ट्रेन में जब महिला पर एसिड अटैक हुआ था, उस समय सीएम बनने के बाद खुद योगी आदित्यनाथ 24 मार्च को इस महिला से मिलने पहुंचे थे। उस वक्त उन्होंने पीडि़ता के परिजनों को सुरक्षा देने का भरोसा दिलाया था। मगर अपराधी यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को खुली चुनौती दे रहे हैं। पीडि़ता का नाम रेखा (काल्पनिक नाम) बताया जा रहा है। जो लखनऊ के शीरोज कैफे में काम करती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement