अमरनाथ यात्रा के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच आज रवाना हुआ पहला जत्था

img

जम्मू: अमरनाथ यात्रियों का पहला जत्था जम्मू बेसकैंप से रवाना हो गया. कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच बाबा अमरनाथ की वार्षिक यात्रा के लिए बुधवार सुबह श्रद्धालुओं का पहला जत्था जम्मू से पहलगाम व बालटाल के लिए रवाना हुआ. इस दौरान जम्मू-कश्मीर के उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने जम्मू बेस शिविर से अमरनाथ यात्रा के पहले बैच को करीब सुबह साढ़े चार बजे  झंडी दिखाई. गौरतलब है कि पवित्र गुफा में शिवलिंग के पहले दर्शन 29 जून को होंगे. पहले दिन राज्यपाल एनएन वोहरा, अमरनाथ श्राइन बोर्ड के सीईओ उमंग नरूला व अन्य अधिकारियों के साथ पवित्र गुफा में पूजा-अर्चना करेंगे.

यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में काफी उत्साह है

जम्मू से रवाना होने वाले पहले जत्थे में दो हजार से अधिक श्रद्धालु  रवाना हुए. इसके अलावा हजारों श्रद्धालु जम्मू में रुके बिना सीधे भी पहलगाम व बालटाल जाएंगे. उधर, पहलगाम व बालटाल में भी करीब पांच सौ श्रद्धालु पहुंच चुके हैं.कश्मीर में मौजूदा हालात को देखते हुए यात्रा के लिए सुरक्षा प्रबंध काफी पुख्ता किए गए हैं.

बाबा अमरनाथ की वार्षिक यात्रा चालीस दिन की है. यात्रा रक्षा बंधन वाले दिन सात अगस्त को संपन्न होगी. राज्य में आंतकियों की गतिविधियां बढ़ने से यहां यात्रा पर आतंकवादी हमले की संभावना है हालांकि प्रशासन ने सुरक्षा पैमाने को उच्चतम स्तर पर पहुंचा दिया है और कहा कि यात्रियों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम हैं. जम्मू से गुफा तक का रास्ता 200 किलोमीटर की दूरी पर है. इस यात्रा के लिए 2.30 लाख यात्रियों ने पंजीकरण कराया है.

सारे इंतज़ामों पर रखी जा रही है नज़र 

राज्यपाल ने पवित्र गुफा कैम्प निदेशकों को ले-आउट प्लान में चिन्हित क्षेत्रों में टैंट, दुकानें और लंगर स्थापित करने को कहा तथा सेना व सेना सुरक्षा टुकड़ियों को क्षेत्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. राज्यपाल ने कहा कि पर्याप्त साफ-सफाई के लिए भी प्रबंध किए जाने चाहिए और सारे कचरे को पर्याप्त रूप से नष्ट करने के लिए गहरे खड्डे खोदे जाने चाहिए. 

Similar Post