गुरुवार को हो सकता है संसद के मौजूदा बजट सत्र का समापन

img

नई दिल्ली, बुधवार, 24 मार्च 2021। चार राज्यों एवं एक केंद्र शासित प्रदेश में 27 मार्च से विधानसभा के चुनाव शुरू हो रहे हैं। इसके मद्देनजर संसद के मौजूदा बजट सत्र की अवधि कम की जा सकती है और इस सत्र का समापन गुरुवार को हो सकता है। विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने अनुरोध किया था कि सत्र की अवधि, जिसे मूल रूप से 8 अप्रैल तक जारी रखने के लिए निर्धारित किया गया था, पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच होने वाले विधानसभा चुनावों के कारण घटा दिया जाना चाहिए।

सूत्र ने विभिन्न दलों के नेताओं के अनुरोध के आधार पर कहा कि 8 मार्च से शुरू हुए बजट सत्र के दूसरे भाग के घटने की संभावना है और यह 25 मार्च को समाप्त हो सकता है। कई राजनीतिक दलों, विशेषकर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने यह अनुरोध किया था क्योंकि पश्चिम बंगाल में पहले चरण का मतदान 27 मार्च को होना है। धानसभा चुनाव का हवाला देते हुए सत्र के समापन के लिए अपनी पार्टियों की ओर से संसदीय कार्य मंत्री, लोकसभा अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति को कई सांसदों से 100 से अधिक औपचारिक पत्र प्राप्त हुए हैं। लोकसभा और राज्यसभा में तृणमूल के नेताओं क्रमश: सुदीप बंद्योपाध्याय और डेरेक ओ'ब्रायन ने क्रमश: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला और राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू से अनुरोध किया था कि दोनों सदनों को स्थगित कर दिया जाए।

बजट सत्र का पहला भाग 29 जनवरी को शुरू हुआ और 29 फरवरी को समाप्त हुआ। एक अवकाश के बाद, बजट सत्र का दूसरा भाग 8 मार्च को शुरू हुआ। 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में पश्चिम बंगाल में 294 सीटों के लिए विधानसभा चुनाव होंगे। 27 मार्च से 6 अप्रैल के बीच असम में तीन चरणों में 126 सीटों के लिए मतदान होगा। पुडुचेरी में 30, तमिलनाडु में 234 और केरल में 140 सीटों के लिए 6 अप्रैल को एक ही चरण में चुनाव होगा। इन चुनावों के परिणाम 2 मई को घोषित किए जाएंगे।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement