भागवत ने तमिलनाडु में पोंगल समारोह में लिया हिस्सा

img

चेन्नई, गुरुवार, 14 जनवरी 2021। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने गुरूवार को चेन्नई में पोंगल समारोह में हिस्सा लिया और इस मौके पर पूजा अर्चना की। बता दें कि, दक्षिण भारत में पवित्र महीना ‘थाइ’ के अवसर पर पोंगल त्योहार जोर-शोर से मनाया जाता है। यह विवाह एवं नए कारोबार शुरू करने के लिए शुभ माना जाता है।  आरएसएस के एक स्वयंसेवक के घर जाने पर भागवत ने उस परिवार की एक लड़की को तमिल भाषा में लिखित एक प्राचीन काव्य थिरूक्कुरल की पंक्तियां बताई। संघ प्रमुख ने जिन पंक्तियों को उद्धृत किया, उसका अर्थ है कि आग से जलने के जख्म तो भर जाएंगे, लेकिन जुबान के जख्म नहीं। लड़की ने भी भागवत को उस काव्य से कुछ पंक्तियां सुनाकर उनका आभार प्रकट किया।    इससे पहले धोती पहने एवं विभूति एवं कुमकुम लगाए मोहन भागवत गुरूवार सुबह चेन्नई के कादुम्बडी मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने पोंगल के जश्न में हिस्सा लिया और विशेष पूजा अर्चना की। भागवत ने बाद में संघ के पदाधिकारियों के साथ संगठन के कामकाज की समीक्षा की। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement