ईडी ने यूपी के पूर्व मंत्री प्रजापति के घर और अन्य परिसरों पर मारे छापे

img

लखनऊ, बुधवार, 30 दिसम्बर 2020। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को एक अवैध खनन घोटाले के संबंध में उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति, उनके ड्राइवर और बेटों के कई आवासीय और अन्य ठिकानों पर छापे मारे। मामला 2012 और 2016 के बीच राज्य के विभिन्न जिलों में खनन पट्टों को आवंटित करने के मानदंडों के उल्लंघन से संबंधित है। ईडी ने पूर्व मंत्री के खिलाफ 4 अगस्त, 2019 को धनशोधन रोकथाम अधिनियम, 2002 के तहत मामला दर्ज किया था। ईडी की टीमों ने अमेठी में उनके आवास पर छापेमारी की, जबकि एक अन्य टीम ने अमेठी जिले के टिकारी इलाके में उनके ड्राइवर राजा राम के ठिकानों पर छापा मारा। प्रजापति के बेटे अनिल और अनुराग के लखनऊ के विभूति खंड कार्यालय में एक और छापा मारा गया।

ईडी के सूत्रों ने आरोप लगाया कि प्रजापति के बेटों की कंपनियों के माध्यम से अवैध खनन से धन निकाला गया। इस बीच, राज्य सतर्कता ने प्रजापति के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत एक एफआईआर भी दर्ज की है, जिसमें उनकी आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक होने का दावा किया गया है। सीबीआई ने भी पिछले साल खनन घोटाले में पूर्व मंत्री के खिलाफ मामला दर्ज किया था। प्रजापति इस समय 2017 के सामूहिक दुष्कर्म मामले में लखनऊ जेल में बंद हैं, जबकि उनका बेटा अनिल धोखाधड़ी के एक मामले में जेल में है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement