जो किसान से टकराएगा, चूर-चूर हो जाएगा- कमलनाथ

img

भोपाल, सोमवार, 28 दिसम्बर 2020। कांग्रेस के स्थापना दिवस पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल स्थित पार्टी कार्यालय में झंडे को सलामी दी। इस दौरान उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को संबोधित भी किया। संबोधन में कमलनाथ ने कहा कि, 'आज का दिन विश्व के लिए ऐतिहासिक दिन है। कांग्रेस और सेवादल की स्थापना नहीं होती तो मैं यहां बोल नहीं पाता, आप सुन नहीं पाते। देश को आजाद कराने वालों में कांग्रेस और सेवादल के लोगों के ही नाम हैं।'

इसके अलावा कमलनाथ ने भाजपा को भी अपने निशाने पर लिया। कमलनाथ ने कहा, ''जो लोग खुद को राष्ट्रवादी कहते हैं, वे अपनी पार्टी से एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का नाम बता दें। जब मैंने पहला इलेक्शन लड़ा था तब भाजपा का जन्म भी नहीं हुआ था। अब ये राष्ट्रवाद की बड़ी बड़ी बातें करते हैं। नौजवानों सच्चाई का साथ दो। हमें हिंसा नहीं चाहिए न्याय चाहिए।'' इसके अलावा किसान आंदोलन के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ''लाखों किसान आंदोलन कर रहे हैं, क्या वे मूर्ख हैं? किसानों को बंधुआ बनाने का प्रयास किया जा रहा है।''

आगे कमलनाथ ने कहा, ''इंदिरा गांधी ने कृषि उत्पादों का राष्ट्रीयकरण किया था। तब एमएसपी और एफसीआई बना। कांग्रेस एमपी में सरकार में आएगी तो कृषि को लेकर कानून लाएगी। समर्थन मूल्य से कम खरीदी को अपराध घोषित किया जाएगा। एमपी के मंत्रालय पर कांग्रेस का झंडा लहराएगा। इसमें कोई शक नहीं कि हमारी सरकार आएगी। जो किसान से टकराएगा, चूर-चूर हो जाएगा। ये धोती-पजामा वाले नहीं जींस-टी शर्ट वाले किसान हैं।''

आपको हम पहले ही बता चुके हैं कि कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता किसान संघर्ष तिरंगा यात्रा निकालने वाले हैं। जी दरअसल प्रदेश के सभी जिलों के किसानों से मुट्ठी भर अनाज और गांव की मिट्टी लेकर 15 जनवरी को कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय पहुंचेगे।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement