महिलाओं के लिए ज्यादा खतरनाक है डिप्रेशन, शोध में हुआ खुलासा

img

स्ट्रेस हर किसी को होता है. इससे बचने के लिए लोग कई तरह के उपाय भी अपनाते हैं. लेकिन अगर दिमाग शांत नहीं रख पाते हैं तो तनाव बढ़ता जाता है. डिप्रेशन (अवसाद) यानि मानसिक तनाव ऐसी समस्‍या है जिसके बारे में कोई बात नहीं करता और यही इसके समाधान में सबसे बड़ी बाधा है. बिजी शेड्यूल और तनावभरी जिंदगी के कारण आज दुनियाभर में 30 लाख लोग डिप्रेशन के शिकार हैं. इसमें महिलाओं को है सबसे ज्यादा खतरा. जानें इससे बचने के उपाय.

महिलाओं को है ज्यादा खतरा

  • शोध के मुताबिक, महिलाओं के डिप्रेशन की चपेट में आने का खतरा पुरुषों के मुकाबले कहीं ज्यादा होता है. पुरुषों के मुकाबलें महिलाओं में डिप्रेशन की समस्या 20% ज्यादा है, जिसका सबसे मुख्य कारण दोहरी जिंदगी जीना है. इसके आलवा हार्मोनल बदलाव, सिगरेट या शराब, फोन का ज्यादा इस्तेमाल भी आपको डिप्रेशन का शिकार बना सकता है.
  • शोध के मुताबिक, समाज का बदलता दौर, तनाव, बच्चों की पढ़ाई, प्रतिस्पर्धा, पारिवारिक समस्याएं आदि अवसाद की मुख्य वजह माने जाते हैं. 
  • महिलाओं में यह समस्या घर और ऑफिस की भागदौड़ संभालने की चक्कर में होती है. काम के चक्कर में वह खुद को समय नहीं देती और तनाव के कारण धीरे-धीरे डिप्रेशन की चपेट में आ जाती है.

डिप्रेशन से बचने के कुछ उपाय

  • अवसाद से बचने के लिए योग एक सही तरीका है. बहुत से ऐसे शोध हुए हैं, जिनमें पाया गया है कि योग से निरोग हुआ जा सकता है.
  • अपने परिवार व दोस्तों के  साथ ज्यादा समय बिताने की कोशिश करें. अपने दोस्तों से मिलें, घूमने जाएं.
  • रोजाना वॉक पर जाएं, जॉगिंग करें, संभव हो तो स्विमिंग (तैरना) व योग सीखें. व्यायाम करने और फिट रहने से मानसिक स्वास्थ्य बेहतर रहता है और जीवन में सकारात्मकता को बढ़ावा मिलता है. 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement