कांग्रेस ने AIMIM को भाजपा की बी टीम बताया, कहा- चुनाव में उसका असर नहीं होगा

img

नई दिल्ली, गुरुवार, 05 नवम्बर 2020। कांग्रेस की बिहार इकाई के अध्यक्ष मदन मोहन झा ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को भाजपा की ‘बी टीम’ करार देते हुए बृहस्पतिवार को दावा किया कि असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली इस पार्टी का विधानसभा चुनाव में कोई असर नहीं होगा क्योंकि लोग अपना वोट बर्बाद नहीं करेंगे। उन्होंने यह उम्मीद भी जताई कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन को इस चुनाव में पूर्ण बहुमत मिलेगा और कांग्रेस 2015 के चुनाव से भी बेहतर प्रदर्शन करेगी। 

झा ने कहा कि एआईएमआईएम, महागठबंधन के वोट में कोई सेंधमारी नहीं कर पाएगी क्योंकि मतदाता अकलमंदी के साथ वोट करेंगे और अपना वोट बर्बाद नहीं करेंगे। बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने यह बयान उस वक्त दिया है जब विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में सीमांचल के कई उन क्षेत्रों में मतदान होने वाला है जहां मुस्लिम आबादी अच्छी-खासी संख्या में है और एआईएमआईएम ने कई सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं।

उल्लेखनीय है कि इस चुनाव में एआईएमआईएम ने उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी, बसपा एवं कुछ अन्य दलों के साथ मिलकर ‘ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर अलांयस’ (जीडीएसएफ) का गठन किया है। कुशवाहा इस गठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं। यह पूछे जाने पर क्या ओवैसी के नेतृत्व वाली एआईएमआईएम बिहार चुनाव के तीसरे चरण में महागठबंधन को नुकसान पहुंचा सकती है तो झा ने कहा, ‘‘मतदाता अपना वोट बर्बाद नहीं करेंगे। वे बहुत अकलमंदी के साथ मतदान करेंगे।’’ 

साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘उनके (एआईएमआईएम) के एक या दो मजबूत उम्मीदावार कुछ असर डाल सकते हैं, लेकिन आमतौर पर मतदाता उनके साथ नहीं जाएगा। मुझे पूरा विश्वास है कि मतदाता गलत फैसला नहीं करेंगे।’’ ओवैसी और उनके सहयोगियों को ‘वोट कटवा’ करार देते हुए झा ने इस बात पर जोर दिया, ‘‘सबको पता है कि इन्हें कौन गाइड कर रहा है।’’ उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि एआईएमआईएम भाजपा की ‘बी टीम’ है और दोनों मिले हुए हैं। महागठबंधन के प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर झा ने कहा कि महागठबंधन की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी।

चुनाव बाद जरूरत पड़ने पर लोक जनशक्ति पार्टी का साथ लेने की संभावना से जुड़े सवाल पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हमें पूर्ण बहुमत मिलेगा और किसी की जरूरत नहीं पड़ेगी।’’ बिहार में दो चरणों का मतदान 28 अक्टूबर और तीन नवंबर हो चुका है। तीसरे और आखिरी चरण का मतदान सात नवंबर को होगा। 10 नवंबर को मतगणना होगी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement