आंध्र ने सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के हस्तक्षेप को लेकर चीफ जस्टिस से की शिकायत

img

अमरावती, रविवार, 11 अक्टूबर 2020। एक अभूतपूर्व कदम में, आंध्र प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के एक न्यायाधीश के कथित हस्तक्षेप के बारे में प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे से शिकायत की है। सरकार का कहना है कि विपक्षी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के हितों की रक्षा के लिए न्यायाधीश ने हस्तक्षेप किया है। मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी के मुख्य सलाहकार अजेया कल्लम ने कहा कि सरकार ने एन. चंद्रबाबू नायडू के साथ न्यायाधीश की निकटता और तेदेपा और उसके पार्टी के लोगों के हितों की रक्षा के लिए उनके हस्तक्षेपों का हवाला देते हुए सीजेआई के सामने अपनी बात रखी है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने बोबडे को न्यायाधीश की कथित न्यायिक गलती के बारे में सूचित किया, जब वह तेदेपा शासनकाल के दौरान एडवोकेट जनरल दम्मलपति श्रीनिवास के पक्ष में आदेश पारित करने के दौरान हाईकोर्ट न्यायाधीश थे। उन्होंने कहा, "सरकार ने हाईकोर्ट द्वारा पारित आदेशों और हाल ही में हुई घटनाओं के बारे में प्रधान न्यायाधीश के समक्ष सामग्री रखी।" राज्य सरकार ने चीफ जस्टिस बोबडे को कथित अमरावती भूमि घोटाले के संबंध में हाईकोर्ट के हालिया आदेशों से भी अवगत कराया है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement