दलित महिला का शव चिता से हटवाने की घटना को लेकर मायावती ने योगी सरकार से की जांच की मांग

img

लखनऊ, मंगलवार, 28 जुलाई 2020। बसपा सुप्रीमो मायावती ने उत्तर प्रदेश के आगरा में दलित महिला का शव कथित तौर पर चिता से हटवाने की घटना को अति-शर्मनाक करार देते हुए मंगलवार को मांग की है कि मामले की उच्चस्तरीय जांच हो और दोषियों को सख्त सजा मिले। मायावती ने ट्वीट किया कि  यूपी में आगरा के पास एक दलित महिला का शव वहां जातिवादी मानसिकता रखने वाले उच्च वर्गों के लोगों ने इसलिए चिता से हटा दिया क्योंकि वह श्मशान-घाट उच्च वर्गों का था, जो यह अति-शर्मनाक व अति-निंदनीय भी है। उन्होंने कहा कि इस जातिवादी घृणित मामले की यूपी सरकार को उच्च स्तरीय जांच करानी चाहिए और दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए ताकि प्रदेश में ऐसी घटना की फिर से पुनरावृति ना हो सके। बीएसपी की यह पुरजोर मांग है। 

उल्लेखनीय है कि अछनेरा तहसील के रायभा गांव में एक दलित महिला की मौत हो गई। महिला का जब अंतिम संस्कार किया जा रहा था, तब गांव के उच्च जाति के लोगों ने कथित तौर पर शव को चिता से उतरवा दिया। मामला पुलिस तक पहुंचा तो क्षेत्राधिकारी और थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे लेकिन बात नहीं बनी। इसके बाद शव को हटाकर दूसरी जगह दाह संस्कार कराया गया। मामला मीडिया में आने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने कहा कि उक्त प्रकरण की जांच क्षेत्राधिकारी, अछनेरा को सौंपी गई है। दोषी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement