मुख्यमंत्री योगी ने सावन के पहले सोमवार को किया रूद्राभिषेक

img

गोरखपुर, सोमवार, 06 जुलाई 2020। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को गोरखनाथ मंदिर में रुद्राभिषेक किया। इस दौरान उन्होंने देवाधिदेव भगवान शिव से कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ रहे संपूर्ण विश्व के कल्याण, उद्घार, समृद्घि एवं शांति के लिए प्रार्थना की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले गोरखनाथ मंदिर में गुरु गोरक्षनाथ की पूजा अर्चना की। फिर ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं अपने ब्रह्मलीन गुरु महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेका। इसके बाद वे सीधे मानसरोवर मंदिर पहुंचे और सभी देव प्रतिमाओं की पूजा कर भगवान शंकर का रुद्राभिषेक किया।

इस दौरान मंदिर के परम्परागत पुजारी एवं संस्त विद्यालय के आचार्य सहित 11 वेदपाठी ब्राह्मण इस अनुष्ठान में शामिल थे। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर वैदिक मंत्रोच्चारण से गूंजता रहा। रुद्राभिषेक के वक्त गोरखनाथ मंदिर के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ, मंदिर के सचिव द्वारिका तिवारी समेत अन्य मौजूद रहे। मंत्रोच्चार के बीच एक घंटे तक चले रुद्राभिषेक कार्यक्रम में मंदिर के खास लोग शामिल शामिल थे। रुद्राभिषेक के दौरान दूध तथा कई प्रकार के फलों के रस से अनुष्ठान को संपन्न कराया गया। अनुष्ठान के बाद प्रसाद वितरित किया गया।

उधर, कोराना वायरस के संक्रमण के कारण फिजिकल डिंस्टेंसिंग का पालन करते हुए भक्तों ने सावन के पहले सोमवार पर आज देवाधिदेव भगवान शिव का दर्शन-पूजन किया।  कांवड़ यात्रा प्रतिबंधित होने के बाद भी लोग बड़ी संख्या में प्रदेश के विख्यात शिव मंदिरों में दर्शन करने पहुंचे हैं।  सावन के पहले सोमवार को आज वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर के साथ ही गोरखपुर के गोरखनाथ, मेरठ के औघड़नाथ, लखनऊ के मनकामेश्वर मंदिर, कानपुर के बाबा आनंदेश्वर मंदिर, प्रयागराज के मनकामेश्वर मंदिर, लखीमपुर खीरी के गोला गोकर्णनाथ मंदिर में भारी भीड़ उमड़ी है। 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement