पंजाब में पवित्र ग्रंथ चोरी करने वाले सात आरोपी गिरफ्तार

img

चंडीगढ़, शनिवार, 04 जुलाई 2020। सिखों के पवित्र ग्रंथ- गुरु ग्रंथ साहिब की चोरी से जुड़े पांच साल पुराने जघन्य अपराध में 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जालंधर रेंज के उप महानिरीक्षक रणबीर सिंह खटरा के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल ने पंजाब के फरीदकोट जिले से डेरा सच्चा सौदा के 7 अनुयायियों को शनिवार को गिरफ्तार किया। इन लोगों को बुर्ज जवाहर सिंह वाला गांव से गुरु ग्रंथ साहिब की 'बिर' चोरी करने के लिए गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों में फरीदकोट जिले के सुखजिंदर सिंह, नीला, रंजीत भोला, निशान, बलजीत और नरिंदर शर्मा शामिल हैं।

बीहबल कलां और कोटकापुरा कस्बों में पवित्र धर्म ग्रंथ के अपमान के विरोध में हुई हिंसक झड़पों में पुलिस की गोलीबारी में दो लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हो गए थे। अक्टूबर 2015 में ग्रंथ के अपमान की घटना के बाद हुए विरोध प्रदर्शन में पंजाब के कट्टरपंथी सिखों और अन्य लोगों ने राजमार्गों और सड़कों को अवरूद्ध कर दिया था।  पंजाब में उस समय (2007-2017) शिरोमणि अकाली दल-भाजपा की सरकार सत्ता में थी। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि सीबीआई से मामला वापस लेने के बाद इसकी जांच विशेष जांच दल (एसआईटी) को सौंपी गई थी। वह इस मामले की तह तक जाएगी।
 

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement