चीनी कंपनी को ठेका देने के मामले पर प्रियंका ने साधा निशाना, कहा- सरकार ने घुटने ठेकने जैसी रणनीति अपनाई

img

नई दिल्ली, गुरुवार, 18 जून 2020। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि जवानों की शहादत के बाद चीन को कड़ा संदेश दिया जाना चाहिए, लेकिन सरकार ने दिल्ली-मेरठ सेमी हाई स्पीड कॉरिडोर का ठेका एक चीनी कंपनी को देकर घुटने टेकने की रणनीति अपनाई है। उन्होंने एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘‘हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं। ऐसे में केंद्र सरकार को मजबूत संदेश देना चाहिए, लेकिन सरकार ने दिल्ली-मेरठ सेमी हाईस्पीड रेल कॉरिडोर का ठेका चीनी कम्पनी को सौंप कर घुटने टेकने जैसी रणनीति अपनाई है।’’

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा कि तमाम भारतीय कंपनियां भी इस कॉरिडोर को बनाने के काबिकांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा कि तमाम भारतीय कंपनियां भी इस कॉरिडोर को बनाने के काबिल हैं। उन्होंने जो खबर साझा की है उसके मुताबिक, दिल्ली-मेरठ सेमी हाईस्पीड रेल परियेजना के लिए अंडरग्राउंड स्ट्रेच बनाने का ठेका चीनी कंपनी ‘शंघाई टनल इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड (एसटीईसी) को मिला है, क्योंकि उसने सबसे कम 1126 करोड़ रुपये की बोली लगाई।

Priyanka Gandhi Vadra@priyankagandhi

हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं।

ऐसे में केंद्र सरकार को मजबूत संदेश देना चाहिए लेकिन सरकार ने दिल्ली-मेरठ सेमी हाईस्पीड रेल कॉरिडोर का ठेका चीनी कम्पनी को सौंप कर घुटने टेकने जैसी रणनीति अपनाई है।

तमाम भारतीय कंपनियां भी इस कॉरिडोर को बनाने के काबिल हैं।https://www.patrika.com/meerut-news/chinese-company-get-tender-during-india-china-border-tension-6198142/ …

India-China Border पर तनाव के बीच चीनी कंपनी को मिला 1126 करोड़ का ठेका

Highlights: -विपक्ष के साथ ही RSS ने की ठेका रद्द करने की मांग -भारतीय कंपनियों ने भी लगाई थी बोली, Chinese Company ने मारी बाजी -Congress ने सरकार पर साधा निशाना

patrika.com

8,632

12:14 pm - 18 जून 2020

Twitter Ads की जानकारी और गोपनीयता

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement