लगातार मास्क लगाना भी हो सकता है हानिकारक, जानिए कैसे?

img

आज के समय में इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस से बचने के लिए जूझ रही है. ऐसे में अभी तक इस बीमारी का कोई इलाज नही खोजा जा सका है केवल इससे बचाव करना ही एक मात्र इलाज है जो है मास्क. जी हाँ, लोगो को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सोशल डिस्टेंशिग के साथ मुंह पर मास्क लगाना अनिवार्य किया गया है और मास्क लगाकार कोरोना से बचा जा सकता है. लेकिन आपको हम यह भी बता दें कि लगातार मास्क का इस्तेमाल करने से हमारे स्वास्थ्य पर घातक प्रभाव पड़ता है. जी हाँ, क्योंकि मास्क लगाने से हमारे मुहं और नाक कवर होते है और ऐसे में कई बार बाहर सांस छोड़ते समय हवा आंखों में पहुंच जाती है और इससे आंखों में संक्रमण का खतरा रहता है.

आप सभी को पता ही होगा कि आंखों में इरिटेशन होने के कारण व्यक्ति अपना हाथ बार—बार आंख के पास ले जाता है और इससे आंख के जरिये कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा रहता है. केवल इतना ही नहीं बल्कि कोरोना संक्रमित मरीजों के एक ही मास्क का इस्तेमाल कई दिन तक करने से शरीर में वायरल लोड बढ़ने का खतरा रहता है. जी हाँ, वह इस वजह से क्योंकि सांस छोड़ने पर मास्क में नमी आ जाती है और सांस के माध्यम से बाहर निकल रहे वायरस मास्क में चिपक जाते है. उससे दोबारा सांस लेने पर फिर शरीर में पहुंच जाते है और इससे शरीर में वायरस का लोड बढ़ जाता है. इस करण कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए मास्क का इस्तेमाल करते समय सावधानी अपनानी जरुरी है. ध्यान रहे कि मास्क को बार-बार न छूना और एक ही मास्क का लगातार इस्तेमाल ना करना आपको कोरोना वायरस से बचा सकता है और आपकी सेहत को अच्छा रख सकता है.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement