अवसाद को कम करने के लिए इन घरेलू नुस्खों का करें उपयोग

img

दुनियाभर के लोगो के लिए डिप्रेशन एक कोमन परेशानी बन गई है. लगभग हर दूसरा इंसान इस ​बीमारी का शिकार है. डिप्रेशन में जाने की कोई उम्र निर्धारित नहीं होती है. किशोर, युवा, प्रौढ़ उम्र की किसी भी अवस्था में यह हो सकता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन भी आगाह कर चुका है कि अगले साल यानी कि 2020 तक डिप्रेशन यानी कि अवसाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी बीमारी बन जाएगी. इन दिनों अधिकतर लोग डिप्रेशन यानी कि अवसाद की गिरफ्त में आ रहे हैं. 

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भागदौड़ भरी जिंदगी में तरह-तरह के तनाव से हर दूसरा व्यक्ति घिरा है. इन सभी के बीच इंसान का मानसिक रूप से पूरी तरह से स्वस्थ रहना मुश्किल हो जाता है. कभी पढ़ाई का प्रेशर, कभी काम का दबाव तो कभी प्यार या रिश्ते में धोखा मिलना, ऐसे में व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता है. डिप्रेशन में इलाज के तौर पर दवाओं का सेवन करने से पहले कुछ घरेलू तरीकों को आजमाकर देखें, जो आसानी से डिप्रेशन जैसी समस्याओं का निराकरण करने में सक्षम है.

अगर आप अपने अवसाद पर नियंतत्र पाना चाहते है ​तो अपनाएं ये तरीके 

तनाव और डिप्रेशन से उबरने के लिए हल्दी और नींबू आपके लिए बेहद मददगार साबित होंगे. एक रिसर्च के अनुसार हल्दी अल्जाइमर और कैंसर की तरह ही डिप्रेशन के इलाज के लिए भी बेहद असरदार है. यह एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व, एंटी बायोटिक और एंटीडिप्रेसेंट तत्वों से भरपूर है, जिसका फायदा डिप्रेशन में भी मिलता है.

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement