शरद पवार ने PM मोदी को लिखा पत्र, संकटग्रस्त चीनी उद्योग के लिए मांगी मदद

img

मुंबई, शुक्रवार, 15 मई 2020।राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर चीनी उद्योग को संकट से उबारने के लिए मदद मांगी है। कोरोना वायरस महामारी पर काबू पाने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन से उद्योग पर बुरा असर पड़ा है। पवार ने इस बात का भी उल्लेख किया कि मोदी ने एमएसपी, चीनी निर्यात, बफर स्टॉक और इथेनॉल उत्पादन को बढ़ावा देने जैसी कुछ नीतिगत पहल की हैं। इनमें से कई फैसले मार्च अंत में लागू किए गए लॉकडाउन से पहले लिए गए थे।

Sharad Pawar@PawarSpeaks

 · 6 घंटे

@PawarSpeaks को जवाब दिया जा रहा है

4. Conversion of outstanding Working capital into Short term loan and rescheduling all term loans for 10 years with a moratorium of two years on the lines of Mitra Committee recommendations.

Sharad Pawar@PawarSpeaks

5. Treating sugar mills’ distilleries as Strategic Business Units ( SBUs) and on Stand Alone basis the banks should finance the Ethanol Projects sanctioned under the Interest Subvention Capex Scheme announced by the Central Government in 2018.

352

9:22 am - 15 मई 2020

Twitter Ads की जानकारी और गोपनीयता

पवार ने भेजे अपने पत्र में प्रधानमंत्री से ‘‘तत्काल हस्तक्षेप’’की मांग की, ताकि लॉकडाउन के कारण संकट का सामना कर रहे उद्योग को उबारा जा सके। पवार ने ट्वीट किया, ‘‘माननीय प्रधानमंत्री के समक्ष पत्र के माध्यम से चिंता जताई और उनसे अनुरोध किया कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर अप्रत्याशित ढंग से लागू किए गए देशव्यापी लॉकडाउन के कारण संकटग्रस्त चीनी उद्योग को उबारने के लिए तत्काल हस्तक्षेप करें।’’ उन्होंने इसके साथ ही पत्र की एक प्रति भी पोस्ट की। 

पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री ने इस क्षेत्र से संबंधित चिंताओं को उठाते हुए महाराष्ट्र राज्य सहकारी चीनी फैक्टरी महासंघ लिमिटेड के अध्यक्ष का एक पत्र भी संलग्न किया। पवार ने कहा कि कोविड-19 संकट दिन प्रतिदिन और बुरा हो रहा है, जिसके संबंध में महासंघ ने कुछ सुझाव दिए हैं। महासंघ ने निर्यात प्रोत्साहनों और बफर स्टॉक खर्चों की बकाया राशि का भुगतान करने के लिए धन का प्रावधान करने का सुझाव दिया है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement