उन्नाव मेंं सोने का दावा करने वाले शोभन सरकार का निधन

img

कानपुर, बुधवार, 13 मई 2020। उन्नाव के डौंडिया खेड़ा में सोने का खजाना की भविष्यवाणी कर चर्चा में आए महंत विरक्तानंद सरस्वती शोभन सरकार का बुधवार सुबह निधन हो गया। जानकारी मिलते ही अंतिम दर्शन के लिए भारी संख्या में भक्त मंदिर पहुंचे। भक्तों का शिवली इलाके के बैरी गांव में स्थित शोभन सरकार के आश्रम में तांता लगाना शुरू हो गया। लॉकडाउन को देखते हुए मौके पर स्थानीय पुलिस भी पहुंच गई। उनके निधन पर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने दु:ख जताया है। शोभन सरकार का अंतिम संस्कार चौबेपुर के सुनौहरा आश्रम में गंगा किनारे होगा। महंत विरक्तानंद सरस्वती शोभन सरकार के नाम से विख्यात थे। साथ ही देश-विदेश की मीडिया की सुर्खियों में रहे थे।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट करके लिखा कि शोभन सरकार "स्वामी विरक्त आनंद महाराज जी का देहावसान अत्यंत दु:खद! ईश्वर संत आत्मा को शांति एवं उनके लाखों अनुयाइयों को इस कठिन समय में शक्ति प्रदान करे। भावभीनी श्रद्घांजलि!" गौरतलब है कि शोभन सरकार ने दावा किया था कि उन्हें सपने में फतेहपुर के रीवा नरेश के किले में शिव चबूतरे के पास 1000 टन सोने के दबे होने का पता चला है। इसके बाद ही साधु शोभन सरकार ने सरकार से सोना निकलवाने की बात कही थी।

सरकार ने उनके सपने को सच मानते हुए खजाने को खोजने के लिए खुदाई भी शुरू करवा दी। हालांकि कई दिनों तक चली खुदाई के बाद भी खजाना नहीं मिला। पूरे देश ही नहीं बल्कि विदेशी मीडिया में भी डौंडिया खेड़ा चर्चा का विषय हो गया था। विदेशों से पत्रकारों की टीमें यहां पहुंची थीं। पूरे देश की मीडिया कई दिनों तक यहां डेरा डाले रही थी और पल-पल की खबर बाहर आ रही थी।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement