कोविड-19 संकट के बीच सुरक्षाबलों के हथियार अधिग्रहण प्रक्रिया पर लगी रोक

img

नई दिल्ली, गुरुवार, 23 अप्रैल 2020। कोरोना वायरस संकट के बीच सुरक्षाबलों के नए हथियार अधिग्रहण प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई है। तीनों सेनाओं से कहा गया है कि कोविड-19 से उपजी परिस्थिति के सामान्य होने तक नए हथियार अधिग्रहण पर रोक लगा दें। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि सैन्य मामलों के विभाग द्वारा एक पत्र लिखा गया है। जिसमें देश में कोविड-19 की स्थिति सामान्य होने तक सुरक्षा बलों को अपने नए हथियार अधिग्रहण प्रक्रियाओं पर रोक लगाने के लिए कहा गया है। सूत्र ने कहा सुरक्षाबलों को अलग-अलग चरणों में जारी अधिग्रहण प्रक्रिया को रोकने के लिए कहा है। अपने साजो-सामान के आधुनिकीकरण के लिए सुरक्षाबल हथियार अधिग्रहण के विभिन्न स्तरों पर हैं। भारतीय वायुसेना फ्रांस को 36 राफेल विमान का भुगतान करने की प्रक्रिया में है और उसे रूस को एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम के लिए भी भुगतान करना है।

भारतीय सेना को अमेरिका और रूस सहित विभिन्न देशों से टैंक, आर्टिलरी गन और असॉल्ट राइफल खरीदनी हैं। जबकि नौसेना ने हाल ही में अमेरिका से 24 मल्टीरोल चॉपर खरीदने के समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। सरकार कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में काफी पैसा खर्च कर रही है। सरकार महामारी के प्रकोप के चलते कई करोड़ लोगों को खाना भी खिला रही है। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में परिस्थिति से निपटने के लिए सरकार कई अन्य उपाय कर सकती है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रक्षा सहित कई मंत्रालयों से अपने आवंटित धन में से एक हिस्सा देने की उम्मीद की जा रही है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement