कोटा से बच्चों को लाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने भेजी 150 बसें

img

भोपाल, मंगलवार, 21 अप्रैल 2020। राजस्थान के कोटा से उत्तर प्रदेश के बाद अब मध्य प्रदेश की सरकार ने भी अपने बच्चों को वापस लाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। देश में कोरोना संकट को ध्यान में रखकर लॉकडाउन की वजह से मध्य प्रदेश के करीब 2000 बच्चे कोटा में फंस गए हैं। उनको लाने के लिए एमपी सरकार की ओर से 150 बसों का काफिला कोटा रवाना कर दिया है। कोटा जाने से पहले सभी बसें ग्वालियर पहुंच गई हैं । ग्वालियर पहुंचीं सभी बसों को पहले सैनिटाइज किया गया और फिर इन्हें मंगलवार सुबह कोटा के लिए रवाना कर दिया गया । ग्वालियर के एसपी नवनीत भसीन ने बताया कि हर बस में पुलिसकर्मी मौजूद रहेगा ,बस के ड्राइवर और कंडक्टर को पीपीई किट्स दे दिए गए हैं। सभी 150 बसें मंगलवार शाम तक कोटा पहुंच जाएंगी।

मंगलवार शाम को ही बसों में मध्य प्रदेश के अलग-अलग जिलों के बच्चों को बैठाने की प्रक्रिया शुरू होगी। इसके बाद बसें बुधवार सुबह अपने-अपने जिले के रवाना हो जाएंगी। बच्चों का मेडिकल टेस्ट उनके जिले में ही होगा। इसके लिए हर जिला प्रशासन को जरूरी मेडिकल उपकरण दिए जा चुके हैं,जिन बच्चों में लक्षण नहीं मिलेंगे, उन्हें होम क्वारनटीन किया जाएगा। आपको बताते जाए कि राजस्थान के कोटा में फंसे अपने राज्य के छात्रों को ले जाने के लिए पांच और राज्य सहमत हो गए हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना है कि मध्य प्रदेश, गुजरात, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और असम के मुख्यमंत्री इसके लिए सहमत हो गए हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement