बिहार में कोरोना का पहला मामला आया सामने, कतर से लौटे शख्स की मौत

img

पटना, रविवार, 22 मार्च 2020। पटना शहर स्थित एम्स में कोरोना वायरस से संक्रमित एक मरीज सैफ अली (38) की मौत हो गई है। बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि पटना एम्स में कोराना वायरस से संक्रमित एक मरीज की मौत हो चुकी है और वहां भर्ती कोरोना वायरस संक्रमित एक अन्य मरीज (इटली से आई एक महिला) को पृथक रखा गया है।मुख्य सचिव ने बताया कि सैफ पटना एम्स में भर्ती होने के पूर्व कहां-कहां इलाज कराया और किन-किन लोगों के संपर्क में रहा उसके बारे में पता लगाया जा रहा है। पटना एम्स के निदेशक डॉ. प्रभात कुमार ने रविवार को बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित उक्त मरीज की मौत कल सुबह उनके अस्पताल में हुई थी। उन्होंने बताया कि ये मरीज कतर से आया था और उनकी किडनी फेल होने के कारण उन्हें पृथक रखा गया था। बिहार के मुंगेर जिला निवासी सैफ को 20 मार्च को पटना एम्स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था।

पटना एम्स के अधीक्षक डॉ. सी एम सिंह ने बताया कि उक्त मरीज के सैंपल को जांच के लिए 20 मार्च को ही आरएमआरआई भेजा गया था पर जांच रिपोर्ट उसकी मौत के बाद कल शाम को मिली थी। उन्होंने बताया कि पटना एम्स में वर्तमान में कोरोना वायरस से संदिग्ध छह मरीज भर्ती है जिनकी जांच रिपोर्ट आनी बाकी है । दूसरे पॉजिटिव शख्स का इलाज पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चल रहा है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि जिस मरीज की मौत हुई है, वह पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में किडनी का इलाज करा रहा था। उनके अनुसार वह मुंगेर जिला का निवासी था।  

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement