गुजरात में कांग्रेस दोनों राज्यसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी

img

  • गोहिल और सोलंकी हैं उम्मीदवार

नई दिल्ली, बुधवार, 18 मार्च 2020। कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि वह गुजरात में पांच विधायकों के पार्टी से इस्तीफा देने के बाद भी दोनों राज्यसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। राज्य के कांग्रेस नेताओं और पर्यवेक्षकों बीके हरि प्रसाद व रजनी पटेल के साथ हुई बैठक में राज्य के नेताओं ने कहा कि उन्हें तकनीकी रूप से केवल एक वोट की जरूरत है और जिग्नेश मेवानी के समर्थन से उन्हें वह मिल जाएगा। पहली सीट शक्ति सिंह गोहिल और दूसरी सीट भरत सिंह सोलंकी को जाएगी। अब पूर्व मुख्यमंत्री सोलंकी के बेटे को अपनी जीत सुनिश्चित करनी है और पार्टी नेताओं का मानना है कि उनके पिता की अच्छी छवि के कारण उन्हें उम्मीद से ज्यादा वोट मिल सकते हैं। पार्टी पर्यवेक्षक हरि प्रसाद ने कहा, हमें दोनों सीटों पर जीत की उम्मीद है।

इस बीच, गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने दावा किया है कि और भी कांग्रेसी विधायक पार्टी से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। उधर, कांग्रेस ने राजस्थान में दो पर्यवेक्षकों रणदीप सिंह सुरजेवाला और टी.एस.सिंहदेव को नियुक्त किया है, जो राज्य में चुनाव की निगरानी करेंगे, जहां भाजपा ने अपने चौथे उम्मीदवार ओंकार सिंह लखावत को उतारा है।

वहीं मध्यप्रदेश में मुकुल वासनिक और हरीश रावत पहले से ही विधायकों को संभालने में जुटे हैं। ये तीनों राज्य दोनों पार्टियों के बीच विवाद के मूल में हैं। पश्चिम बंगाल में तृणमूल समर्थक निर्दलीय उम्मीदवार का नामांकन रद्द हो गया है, इसलिए बिना किसी चुनाव के कांग्रेस समर्थित माकपा उम्मीदवार निर्विरोध जीत जाएंगे। भाजपा उच्च सदन में अपनी संख्या बरकरार रखनी चाहती है, लेकिन हरियाणा में उसने चुनाव के लिए जोर नहीं लगाया, जहां उसकी सरकार जेजेपी और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से चल रही है। महाराष्ट्र में भी चुनाव की कोई स्थिति नहीं है, और वहां भी उम्मीदवार निर्विरोध चुने जाएंगे। झारखंड में कांग्रेस, भाजपा को हरा सकती है।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement