शशि थरूर ने किया संदीप दीक्षित का समर्थन, नेतृत्व के चुनाव की मांग की

img

नई दिल्ली, गुरुवार, 20 फ़रवरी 2020। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने पार्टी का नया अध्यक्ष नियुक्त करने में विलंब को लेकर वरिष्ठ नेताओं पर पूर्व सांसद संदीप दीक्षित के बयान का समर्थन करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि कांग्रेस नेतृत्व का चुनाव कराया जाना चाहिए ताकि पार्टी कैडर में ऊर्जा का नया संचार हो सके। थरूर ने ट्वीट कर कहा, ‘‘संदीप दीक्षित ने जो कहा है वह देश भर में पार्टी के दर्जनों नेता निजी तौर पर कह रहे हैं। इनमें से कई नेता पार्टी में जिम्मेदार पदों पर बैठे हैं।’’

Shashi Tharoor@ShashiTharoor

 · 4 घंटे

What ⁦@SandeepDikshit⁩ said openly is what dozens of party leaders from across the country are saying privately, incl many w/ responsible positions in the Party. I renew my appeal toCWC to hold leadership elections to energise workers&inspire voters. https://indianexpress.com/article/india/now-congress-leader-sandeep-dikshit-speaks-up-on-leadership-who-will-bell-the-cat-6276770/ …

Now Congress leader Sandeep Dikshit speaks up on leadership: ‘Who will bell the cat?’

Speaking to The Indian Express, Sandeep Dikshit said there are many in the Congress who are capable of leading the party — “at least six-eight” — and attacked senior leaders saying “sometimes you...

indianexpress.com

Shashi Tharoor@ShashiTharoor

Some have asked who should vote & for what. I was referring to my earlier call eight months ago for elections among the 10,000 party workers who constitute the “AICC plus PCC delegates” list. These should be for the elected seats in the CWC as well as for the Party Presidency.

530

11:59 am - 20 फ़र॰ 2020

Twitter Ads की जानकारी और गोपनीयता

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं सीडब्ल्यूसी से फिर आग्रह करता हूं कि कार्यकर्ताओं में ऊर्जा का संचार करने और मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए नेतृत्व का चुनाव कराएं।’’ दरअसल, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के पुत्र संदीप दीक्षित ने एक अखबार को दिए साक्षात्कार में कहा है कि इतने महीनों के बाद भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नया अध्यक्ष नहीं नियुक्त कर सके। इसका कारण यह है कि वह सब यह सोच कर डरते हैं कि बिल्ली के गले में घंटी कौन बांधे। पूर्व सांसद दीक्षित ने कहा कि कांग्रेस के पास नेताओं की कमी नहीं है। अब भी कांग्रेस में कम से कम 6- 8 नेता हैं जो अध्यक्ष बन कर पार्टी का नेतृत्व कर सकते हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कभी-कभार आप निष्क्रियता चाहते हैं, क्योंकि आप नहीं चाहते हैं कि कुछ हो।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement