73 साल के भिखारी ने मंदिर में दान किए 8 लाख रुपये

img

नई दिल्ली, शुक्रवार, 14 फ़रवरी 2020। आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में मंदिरों के प्रवेश द्वार पर भिक्षा मांगने वाले 73 वर्षीय भिखारी यादि रेड्डी ने साईंबाबा मंदिर को 8 लाख रुपये दान किए हैं। यह रुपये उन्होंने सात वर्ष में बटोरे हैं। उन्होंने लगभग चार दशकों तक रिक्शा चलाया। इसके बाद जब उनके घुटनों ने रिक्शा चलाने से जवाब दे दिया तो भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ा। यादि रेड्डी ने बताया कि मैंने 40 साल तक रिक्शा चलाया। सबसे पहले मैंने साईंबाबा मंदिर के अधिकारियों को 1 लाख रुपये दिए। जब मेरी तबियत बिगड़ने लगी, तो मुझे रुपये की जरूरत महसूस नहीं हुई। इसलिए, मैंने मंदिर में और योगदान देने का फैसला किया।

 रेड्डी ने कहा कि जब उन्होंने मंदिर में दान देना शुरू किया, तो उनकी आमदनी में इजाफा हुआ। मंदिर में रुपये दान करने के बाद लोगों ने मुझे पहचानना शुरू कर दिया। कहा कि मेरी आय भी धीरे-धीरे बढ़ गई। आज तक मैंने 8 लाख रुपये दिए हैं। मैंने भगवान को शपथ दी कि मैं अपनी सारी कमाई सर्वशक्तिमान को दूंगा। रेड्डी के इस दान की सराहना करते हुए, मंदिर अधिकारियों ने कहा कि इससे मंदिर के विकास में वास्तव में मदद मिली है। हम यादि रेड्डी की मदद से एक गोशाला बनाने में सफल रहे हैं। उन्होंने मंदिर को 8 लाख रुपये का दान दिया है। हम कभी भी किसी तरह का दान नहीं मांगते हैं लेकिन शहर के आसपास के लोग स्वयं दान करते हैं।

Similar Post

LIFESTYLE

AUTOMOBILES

Recent Articles

Facebook Like

Subscribe

FLICKER IMAGES

Advertisement